टीम इंडिया की दो कमियों पर आकाश चोपड़ा की निगाह, इसी वजह से मिली हार

IND vs ENG Highlights 1st Test Day 4- भारत बनाम इंग्लैंड हाइलाइट्स पहला  टेस्ट चौथा दिन, क्रिकेट न्यूज

नई दिल्‍ली । पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने माना है कि टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन के पहले सेशन में ही मैच से कंट्रोल खो दिया था। आकाश का मानना है कि भारतीय टीम मानकर चल रही थी कि 200-225 का स्कोर ज्यादा नहीं होगा।

उन्होंने ओली पोप और रेहान अहमद को सिंगल्स दिए और हैरानी वाली बात ये रही कि चौथे दिन आपके स्पिनरों ने विकेट नहीं निकाले, बल्कि तेज गेंदबाजों ने विकेट निकाले।

रन-चेश शुरु से ही गलत धारणा के साथ खेला

चौथे दिन के पहले सेशन में इंग्लैंड ने तीन विकेट गंवाए, लेकिन अच्छे खासे रन बनाए। इसी पर बात करते हुए आकाश चोपड़ा ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, “भारत ने रन-चेज शुरू करते समय गलत धारणा के साथ खेला। भारत को उम्मीद नहीं थी कि 230 रनों का लक्ष्य इतना बड़ा होगा और यह पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन इंटरव्यू में रोहित शर्मा की प्रतिक्रियाओं से स्पष्ट था।” आकाश ने कहा है कि उनको और बाकी कमेंटेटर्स को लग रहा था कि 200 का लक्ष्य का बड़ा होगा।

इंग्लैंड ने अब सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली

उन्होंने आगे टीम इंडिया के स्पिनर्स के प्रभाव को लेकर भी बात की कि इंग्लैंड के स्पिनरों ने 18 विकेट लिए और हमारे स्पिनर्स ने 14 ही विकेट लिए। इंग्लैंड ने अब सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। इंग्लैंड ने 231 रनों का लक्ष्य भारत को दिया था, लेकिन टीम इंडिया अपनी सरजमीं पर 202 रन बनाकर ढेर हो गई और मुकाबला 28 रनों के अंतर से हार गई। भारत के टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में पहली बार था, जब भारत 100 रनों से ज्यादा की बढ़त लेने के बाद हारा हो।

नंबर 5 के बल्लेबाज के पास कॉन्फिडेंस नहीं

आकाश चोपड़ा ने कहा, “बल्लेबाजी में समस्या है। नंबर 3 और नंबर 5 के बल्लेबाज के पास कॉन्फिडेंस नहीं है। गिल और अय्यर का कॉम्बिनेशन हिला हुआ है। इसके बाद गेंदबाजी में समस्या है। ओली पोप ने जब रिवर्स स्वीप और स्विच स्वीप मारने शुरू किए तो हमारे पास उसका जवाब नहीं था। आपको रैंक टर्नर पर खेलने की आदत हो गई है। इसलिए आप उनके सवालों के जवाब नहीं खोज पाते हैं, क्योंकि आपको आदत लग चुकी है।