पटना समेत तीन शहरों में सीबीआई की रेड से मचा हड़कंप, पूर्व मध्य रेलवे के डिप्टी सीओएस गिरफ्तार

नई दिल्‍ली । बिहार की राजधानी पटना (Patna)समेत तीन शहरों मंगलवार को सीबीआई(CBI) ने छापा मारा। पूर्व मध्य रेलवे मुख्यालय हाजीपुर (East Central Railway Headquarters Hajipur)में भी मंगलवार की देर शाम केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की टीम ने छापेमारी (raid)की। केंद्रीय एजेंसी की टीम सीधे जोनल ऑफिस के पुराने भवन में बने भंडार में पहुंची और वहां मौजूद सभी कागजात को जब्त करते हुए डिप्टी चीफ कन्ट्रोलर ऑफ स्टोरेज यानी डिप्टी सीओएस सुनील कुमार गांधी को बैठा लिया। लंबी पूछताछ के बाद सुनील कुमार को हिरासत में ले लिया गया।

रात करीब नौ बजे सीबीआई टीम कागजात के साथ सुनील गांधी को ले गई। उनसे जुड़े मुजफ्फरपुर और पटना स्थित उनके आवास में भी देर रात सीबीआई की टीम ने छपेमारी की। आरोप है कि वे टेंडर मैनेज करने के नाम पर रिश्वत ले रहे थे। पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी वीरेन्द्र कुमार ने फोन पर हुई बातचीत में कहा कि सीबीआई छापे की सूचना मिली है। इसके आगे उन्होंने कुछ भी बताने से इनकार किया और कहा कि जांच के बाद सीबीआई को क्या बरामद होता है, इसके संबंध में जानकारी वही देगी। आधिकारिक रूप से इस मामले में अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

सीबीआई की छापेमारी करीब साढ़े तीन घंटे चली। हाजीपुर जोनल ऑफिस के साथ पटना और मुजफ्फरपुर में भी छापेमारी हुई। बड़े पैमाने पर गोलमाल की जानकारी मिलने के बाद टीम ने छापेमारी की थी। सूत्र बताते हैं कि शाम करीब साढ़े पांच बजे सीबीआई टीम हाजीपुर जोनल ऑफिस पहुंची और सीधे भंडार में डिप्टी सीओएस सुनील कुमार के चेंबर में चली गई। वहां के सभी कागजात को जब्त कर लिया और पूछताछ शुरू की। रात नौ बजे तक जांच-पड़ताल और पूछताछ के बाद टीम ने सुनील कुमार को गाड़ी में बैठाया और पटना लेकर निकल गई। बताया जाता है कि उनकी गाड़ी भी ले गई।