Bihar Politics: नीतीश फिर पाला बदलेंगे? PK का बड़ा दावा बोले – लिखकर दे सकता हूं…बदलाव 6 माह के अंदर होगा

नीतीश ने किया प्रशांत का प्रमोशन, JDU में बने दूसरे नंबर के नेता - bihar  nitish kumar jdu vice president prashant kishor appoints tpt - AajTak

नई दिल्‍ली । चुनावी रणनीतिकार (election strategist)और जन सुराज आंदोलन के संस्थापक प्रशांत किशोर (Prashant Kishor)ने बिहार में 9वीं बार सीएम बने नीतीश कुमार (Nitish Kumar)को लेकर बड़ा दावा किया है. रविवार (28 जनवरी) को उन्होंने कहा, “बिहार में बना जनता दल (यूनाइटेड)-बीजेपी का गठबंधन ज्यादा दिन नहीं टिकेगा.” प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पीके की यह टिप्पणी नीतीश कुमार के बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए में फिर शामिल होने के कुछ घंटों बाद आई।

मीडिया से बात करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा, “बिहार में नवगठित गठबंधन 2025 के बिहार विधानसभा चुनाव तक नहीं चलेगा. जेडी(यू) और भाजपा का साथ एक साल या उससे भी कम रहेगा. किशोर के मुताबिक, “वर्तमान में जिस सरकार का गठन हुआ है और जिस एनडीए का चेहरा नीतीश कुमार हैं, वह बिहार विधानसभा चुनाव तक अस्तित्व में नहीं रहेगा. मैं आपको यह लिखित में दे सकता हूं. यह बदलाव लोकसभा चुनाव के 6 महीने के अंदर होगा।

पुरानी भविष्यवाणी का भी किया जिक्र

वैसे, नीतीश कुमार को लेकर पीके पहले भी कई टिप्पणियां कर चुके हैं. 2022 में जब नीतीश कुमार ने एनडीए गठबंधन छोड़ा था तो उसके बाद पीके ने कई बार कहा था कि नीतीश फिर पलट सकते हैं. प्रशांत किशोर ने पिछली भविष्यवाणी का जिक्र करते हुए कहा, “मैंने कांग्रेस और आरेजेडी वाली महागठबंधन को लेकर भी कहा था कि यह 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव तक अस्तित्व में नहीं रहेगा और ऐसा हुआ भी था. अब वह 2025 को लेकर भी उसी तरह की भविष्यवाणी कर रहे हैं।

दूसरे दलों पर भी दागे सवाल

प्रशांत किशोर ने इस दौरान दूसरे दलों पर भी सवाल दागे. वह बोले, “नीतीश कुमार पलटूराम हैं या पलटूराम नेताओं के सरदार हैं…यह पहले से तय है लेकिन आज की घटना ने यह दिखाया कि बिहार में मौजूद सभी दल पलटूमार हैं. आज की घटना से साफ हो गया है कि बीजेपी, अमित शाह और नरेंद्र मोदी भी पलटूमार हैं. कल तक ये नीतीश कुमार के लिए सभी दरवाजे बंद होने की बात कह रही थी लेकिन अब साथ हैं. बिहार में पूरी राजनीतिक व्यवस्था ही पलटूमार है. कल तक बीजेपी के जो नेता गाली दे रहे थे वो अब सुशासन की प्रतिमूर्ति बताएंगे. ऐसे ही आरजेडी कल तक नीतीश को सुशासन और भविष्य का नेता बता रही थी, वो अब फिर से नीतीश को गाली देगी।