यूपी सरकार ने खोला धार्मिक शहरों के लिए खजाना, इन शहरों को मिला इतने करोड़ की सौगात

लखनऊ। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने यूपी सरकार का वर्ष 2024-25 का बजट विधानसभा में पेश किया। योगी सरकार ने इस साल 736437 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है। इस बजट में यूपी सरकार ने कई बड़ी योजनाओं की घोषणा की है। साथ ही धार्मिक महत्व वाले शहरों को भी बड़ी सौगात दी है। इसमें प्रयागराज, अयोध्या, मथुरा और बनारस शामिल है।

प्रयागराज
– गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना के लिए 2057 करोड़ 76 लाख रूपये की घोषणा की गई। ये वर्तमान वर्ष की तुलना में दो गुने से अधिक है।
– महाकुम्भ मेला 2025 के विश्व स्तरीय सुविधाओं के साथ भव्य आयोजन के लिए 2500 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।

अयोध्या
– अयोध्या के महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के विस्तार के लिए बजट में डेढ़ सौ करोड़ का प्रावधान है। अयोध्या में ‘महर्षि वाल्मीकि अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा अयोध्या धाम‘ का विकास कराया गया है। अयोध्या में एयरपोर्ट की स्थापना एवं विस्तार हेतु 150 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।
– अयोध्या को माॅडल सोलर सिटी के रूप में विकसित किया जा रहा है।
-अयोध्या के सर्वांगीण विकास हेतु 100 करोड़ रूपये की बजट व्यवस्था प्रस्तावित है।
वाराणसी
– वाराणसी में मेडिकल काॅलेज की स्थापना कराये जाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिये 400 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।
– वाराणसी शहर को माॅडल सोलर सिटी के रूप में विकसित किया जा रहा है।
– वाराणसी एवं अन्य शहरों में रोप-वे सेवा विकसित किये जाने हेतु 100 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।
– जनपद वाराणसी में नेशनल इन्स्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलाजी (निफ्ट) की स्थापना के लिये भूमि क्रय हेतु 150 करोड़ रूपये का बजट प्रस्तावित है।

मथुरा
-जनपद मथुरा में 30 हजार लीटर प्रतिदिन क्षमता (विस्तारीकरण 01 लाख लीटर प्रतिदिन) के नवीन डेरी प्लान्ट के निर्माण के लिए 23 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।