सीट बंटवारे पर अखिलेश के पीछे हटते ही सपा-कांग्रेस में गठबंधन होना तय

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के एक कदम पीछे हटते ही उत्तर प्रदेश में कांग्रेस से गठबंधन होना तय हो गया। कांग्रेस को गठबंधन में 13 सीटें दे रहे अखिलेश यादव ने अब 17 सीटों को लेकर अपनी सहमति दे दी है। इसके साथ ही श्रावस्ती और वाराणसी की सीटों पर समाजवादी पार्टी समझौता कर पीछे हटेगी।

पश्चिम उत्तर प्रदेश के दौरे पर अखिलेश यादव ने कहा कि अंत भला तो सब भला। गठबंधन में कांग्रेस को 17 सीटें दे रहे हैं। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन होगा। दोनों दल साथ में लोकसभा चुनाव में आयेंगे। समाजवादी पार्टी ने वाराणसी में सुरेन्द्र पटेल को पहले से प्रत्याशी बनाकर घोषित किया था। यह सीट गठबंधन में कांग्रेस के खाते में जायेगी। माना जा रहा है कि इस सीट से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय या पूर्व प्रत्याशी राजेश मिश्रा चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। इसी तरह अमरोहा सीट मांग रही कांग्रेस को समाजवादी पार्टी ने सीतापुर सीट देने पर सहमति जतायी है। सीतापुर की तरह ही श्रावस्ती सीट पर भी अब कांग्रेस का प्रत्याशी उतरेगा।