उत्तराखंड की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी, निचले क्षेत्रों में बारिश होने से चल रही शीत लहर

उत्तरकाशी। उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में रविवार को ऊंची चोटियों पर बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में बारिश का सिलसिला शुरू हो गया । मौसम विज्ञान केंद्र ने येलो अलर्ट जारी किया है। कुमाऊं -गढ़वाल मंडल के पांच जनपदों में ढाई हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी हिमपात होने के आसार बताए हैं। पहाड़ों पर ऊंची चोटियों पर बर्फबारी जारी है।

शनिवार से ही जनपद में बादल छाए हुए थे जबकि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हो रही है। निचले इलाकों में बारिश की वजह से जिले भर में शीत लहर चल रही है। इसके कारण ज्यादातर क्षेत्रों में तापमान में 4 से 6 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई है। गंगोत्री -यमुनोत्री और हरकी दून, हर्षिल ,दयारा की पहाड़ियों की चोटियां बर्फ से लकदक हो गई हैं। बर्फबारी का लुत्फ उठाने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक भी यहां पहुंच रहे हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार अगले दो दिन में मौसम का मिजाज बदला रह सकता है। इसके कारण उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में ढाई हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाली क्षेत्रों में भारी हिमपात और मैदानी जिलों में कहीं-कहीं गरज- चमक के साथ ओलावृष्टि को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है।

गौरतलब है कि साल में दूसरी बार आज रविवार को एक बार फिर पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी हो रही है। मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से जारी पूर्वानुमान के अनुसार, 2500 मीटर व इससे अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी के आसार बताए गए थे। जबकि उत्तरकाशी, चमोली और रुद्रप्रयाग के तीन हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी बताई गई है। इन जिलों के लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। अन्य जिलों में बारिश का सिलसिला जारी है।

नैनीताल में रात से बारिश, बर्फबारी की संभावना

प्रदेश के विभिन्न स्थानों के साथ नैनीताल और पहाड़ों पर एक बार फिर रात्रि से ही बारिश शुरू हो गयी है। इससे मौसम और अधिक सर्द हो गया है। अलबत्ता अभी नगर की ऊंचाई वाली चोटियों में भी हिमपात नहीं हुआ है, लेकिन हिमपात की संभावना बनी हुई है। गौरतलब है कि मौसम विभाग ने रविवार के लिए चेतावनी जारी की है। इस पर जिला प्रशासन ने सभी संबंधित अधिकारियों को सजग व सतर्क रहने को कहा है। झील नियंत्रण कक्ष के प्रभारी रमेश गैड़ा ने बताया कि सुबह 8 बजे तक ढाई मिलीमीटर बारिश हुई है। झील का जल स्तर 6 फिट ढाई इंच बना हुआ है। जिला प्रशासन के अनुसार कमोबेश पूरे जनपद में बारिश हो रही है। सर्वाधिक बारिश गरमपानी क्षेत्र में 4 मिमी, धारी में 3 मिमी, मुक्तेश्वर में 2.3 मिमी और कालाढुंगी में 2 मिमी हुई है। सभी सड़कें खुली हैं, और विद्युत व पेयजल की आपूर्ति अभी सुचारु है।