श्रद्धालुओं ने देवीपाटन शक्तिपीठ में महायोगी को खिचड़ी अर्पित की

बलरामपुर। मकर संक्रांति पर श्रद्धालु मंदिरों में पहुंचे। शक्तिपीठ मंदिर देवी पाटन में भक्तों की भीड़ सुबह से जुटी रही। श्रद्धालुओं ने पवित्र सरोवर सूर्यकुंड में स्नान कर मंदिर में स्थापित महायोगी गुरु गोरखनाथ को खिचड़ी अर्पित की। मां पाटेश्वरी का दर्शन पूजन कर मंगल कामनाएं की। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए प्रशासन की ओर से मंदिर पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई।

शक्तिपीठ देवी पाटन में मंदिर के प्रधान पुजारी कोठारी याद नाथ योगी ने मंदिर के पुजारी,संतों के साथ वैदिक मंत्रोच्चार के बीच ब्रह्ममुहूर्त में महायोगी गुरु गोरखनाथ को खिचड़ी अर्पित कर पूजन की शुरुआत की। इसके उपरांत देवीपाटन मंदिर पहुंचे श्रद्धालुओं ने महायोगी को अपने पारिवारिक परंपराओं के मुताबिक खिचड़ी अर्पित कर पूजन कर मनौतियां मांगी। देवीपाटन में महायोगी के द्वारा जलाया गया अखंड धूना का भी श्रद्धालुओं ने दर्शन पूजन किया।

श्रद्धालुओं के भीड़ को देखते हुए पुलिस क्षेत्राधिकार राघवेंद्र सिंह ने पुलिस टीम के साथ पहुंच सुरक्षा के सभी बिंदुओं के गहन जांच करते हुए आवश्यक निर्देश दिया है। उल्लेखनीय है कि महायोगी गुरु गोरक्षनाथ जी के द्वारा जलाया गया अखंड धूना देवीपाटन मंदिर में युगों—युगों से जल रहा है। यहां महायोगी गुरु गोरखनाथ की स्थापित प्रतिमा पर मकर संक्रांति पर्व पर खिचड़ी चढ़ाने के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटती है। श्रद्धालु मां पाटेश्वरी का पूजन उपरांत महायोगी को खिचड़ी चढ़ाते हैं।