मुस्लिम समुदाय को भी पिछड़ापन दूर करने मिलना चाहिए आरक्षण :रईस शेख

नई दिल्ली। महाराष्ट्र कैबिनेट से 10 प्रतिशत मराठा कोटा बिल को इजाजत मिलने के पश्चात मुस्लिमों के आरक्षण की मांग भी उठी है। सपा के विधायक रईस शेख ने कहा, राज्य में मुस्लिम समुदाय को भी पिछड़ापन दूर करने के लिए आरक्षण मिलना चाहिए।

रईस शेख ने आरोप लगाया, राज्य सरकार की ओर से मुस्लिमों को अनदेखा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि, “मुसलमानों के साथ न्याय के लिए यह जरूरी है कि उन्हें जल्द से जल्द 5 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए। मराठा समुदाय को जो न्याय मिल रहा है मैं उसका स्वागत करता हूं, मगर मुसलमानों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।” विधायक शेख ने कहा, मराठा समुदाय को पिछली सरकार की ओर से जब आरक्षण दिया गया, ठीक उसी एक नोटिफिकेश जारी हुआ था जिसमें मुसलमानों को 5 प्रतिशत आरक्षण देने की बात थी। उन्होंने कहा कि, ‘सरकार से हमारी अपील है कि अब जब न्याय किया जा रहा है तो उस अधिसूचना का देखा जाए। हर किसी के साथ न्याय होना चाहिए।’ हालांकि, उन्होंने कहा कि, ‘मैं डिप्टी सीएम अजीत पवार से इसे लेकर अपील कर रहा हूं। उन्होंने यह वादा किया था कि राज्य में अल्पसंख्यकों के साथ अन्याय नहीं होगा।’