‘ये आजकल के बच्चे’, यशस्वी-सरफराज और ध्रुव के लिए रोहित शर्मा का पोस्ट, जश्न की तस्वीर भी साझा की

Rohit Sharma Press conference For Yashasvi Jaiswal - Sarfaraz khan - YouTube

नई दिल्‍ली । भारत ने राजकोट में खेले गए तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड को हराकर पांच मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त ले ली है। इस मैच में टीम इंडिया ने 557 रन का लक्ष्य रखा था, जिसके जवाब में इंग्लिश टीम 122 रन पर ही सिमट गई। भारत और इंग्लैंड के बीच अब चौथा टेस्ट 23 फरवरी से रांची में खेला जाएगा।

किसी को उम्मीद नहीं थी कि विराट कोहली, केएल राहुल, मोहम्मद शमी और श्रेयस अय्यर जैसे सीनियर खिलाड़ियों के बिना उतरी टीम इंडिया इंग्लैंड को तीसरे टेस्ट में इतनी आसानी से हरा देगी। हालांकि, सरफराज खान, यशस्वी जायसवाल और ध्रुव जुरेल जैसे युवा खिलाड़ियों ने उनकी कमी महसूस नहीं होने दी। अब कप्तान रोहित शर्मा ने इंस्टाग्राम पर स्टोरी डाल युवा खिलाड़ियों की तारीफ की है।

रोहित ने तस्वीर साझा की

रोहित ने सरफराज और यशस्वी की एक साथ बैटिंग की तस्वीर और ध्रुव जुरेल का बेन डकेट को आउट करने की तस्वीर साझा की है। इसकै कैप्शन में उन्होंने लिखा- ये आजकल के बच्चे। यशस्वी और सरफराज ने भारत की दूसरी पारी में 172 रन की नाबाद साझेदारी की थी। इसकी बदौलत टीम इंडिया ने चार विकेट पर 430 रन बनाकर पारी घोषित कर दी थी। यशस्वी ने नाबाद 214 रन और सरफराज ने नाबाद 68 रन की पारी खेली थी। इसके अलावा ध्रुव ने इंग्लैंड की दूसरी पारी में डकेट को रन आउट करने में अहम भूमिका निभाई थी।

यशस्वी ने दो दोहरे शतक जड़े

यशस्वी ने अब तक सीरीज में दो दोहरे शतक जड़े हैं। उन्होंने तीन मैचों में 109 की औसत से 545 रन बनाए हैं। वहीं, सरफराज ने डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में अर्धशतक लगाया था। वह ऐसा करने वाले भारत के सिर्फ चौथे बल्लेबाज बने। ध्रुव को पहली पारी में बल्लेबाजी मिली थी और उन्होंने 46 रन की पारी खेली थी। इतना ही नहीं रोहित ने भारत की जीत के जश्न की तस्वीर भी साझा की है।

रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत

भारत ने रविवार को राजकोट में तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड को 434 रनों से हराकर पांच मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है। 557 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम 122 रन पर सिमट गई थी। रनों के लिहाज से यह भारत की सबसे बड़ी टेस्ट जीत थी। इससे पहले 2021 में भारत ने न्यूजीलैंड को मुंबई के वानखेड़े में 372 रन से हराया था। वहीं, ओवरऑल यह टेस्ट में किसी टीम की रनों के अंतर से आठवीं सबसे बड़ी जीत है। टेस्ट में इस मामले में सबसी बड़ी जीत का रिकॉर्ड इंग्लैंड के नाम है। उसने 1928 में ऑस्ट्रेलिया को ब्रिस्बेन में 675 रन से हराया था। वहीं, इंग्लैंड की यह टेस्ट में रनों के अंतर से दूसरी सबसे बड़ी हार है। इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया से ओवल में 1934 में 562 रन से हार चुका है।

भारत ने सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाई

मार्क वुड को छोड़कर इंग्लैंड का कोई बल्लेबाज 20 का आंकड़ा भी नहीं छू सका। वुड ने 15 गेंद में 33 रन बनाए। वहीं, भारत की ओर से रवींद्र जडेजा ने पांच विकेट झटके। इसके अलावा कुलदीप को दो विकेट मिले। बुमराह और अश्विन को एक-एक विकेट मिला। भारत ने पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है। हैदराबाद में पहला टेस्ट इंग्लैंड ने जीता था, वहीं विशाखापत्तनम में दूसरा टेस्ट भारत ने जीता था। यशस्वी जायसवाल ने भारत की दूसरी पारी में 214 रन बनाए, जिसमें 12 छक्के शामिल हैं। रोहित शर्मा और रविंद्र जडेजा ने भी शतक जड़े। सरफराज ने अपने डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में अर्धशतक लगाए। पहली पारी में 62 और दूसरी में 68 रन बनाए। चौथा टेस्ट रांची में 23 फरवरी से खेला जाएगा।