‘हिंदुत्व एवं भगवा ध्वज आज भी कायम, हम डरने वाले नहीं…,’ उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी पर कसा तंज

मुंबई । महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और शिवसेना (यूबीटी) के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने रविवार को एक जनसभा में भारतीय जनता पार्टी पर जुबानी हमले तो किए, किन्तु उनके तेवर बदले-बदले दिखाई दिए।

उन्होंने कहा कि वह पहले भी पीएम नरेंद्र मोदी के दुश्मन नहीं थे तथा आज भी नहीं हैं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने ही सेना के साथ संबंध तोड़ने का फैसला किया था. उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी के महाराष्ट्र आने पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री महाराष्ट्र यह देखने आते हैं कि यहां से क्या गुजरात ले जाया जा सकता है।

हमारा हिंदुत्व एवं भगवा ध्वज आज भी कायम है

उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘मैं मोदी जी को बताना चाहता हूं कि हम कभी भी आपके दुश्मन नहीं थे. आज भी हम दुश्मन नहीं हैं. हम आपके साथ थे. शिवसेना आपके साथ थी. हमने पिछली बार अपने गठबंधन के लिए प्रचार किया था. आप पीएम इसलिए बने क्योंकि विनायक राऊत जैसे हमारे सांसद चुने गये. किन्तु बाद में आपने हमें स्वयं से दूर कर दिया. हमारा हिंदुत्व एवं भगवा ध्वज आज भी कायम है. किन्तु आज, भारतीय जनता पार्टी उस भगवा झंडे को फाड़ने का प्रयास कर रही है।

यह तानाशाह दिवस होगा

उद्धव ठाकरे इन दिनों कोंकण दौरे पर हैं तथा उन लोकसभा क्षेत्रों में जनसभाएं कर रहे हैं, जहां उनकी पार्टी द्वारा चुनाव लड़ने की संभावना है. शिवसेना (यूबीटी) अध्यक्ष ने कहा कि किसी भी अन्य चुनाव के विपरीत 2024 का आम चुनाव अब तक का सबसे अहम चुनाव है. उद्धव ठाकरे ने भारतीय जनता पार्टी पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा, ‘प्रत्येक वर्ष हम गणतंत्र दिवस पर एक.दूसरे को बधाई देते हैं. मुझे डर है कि यदि सत्ता में बैठे राक्षस फिर से चुने गए तो अगला गणतंत्र दिवस हमारे सामने कभी नहीं आएगा. यह तानाशाह दिवस होगा।

अगली पीढ़ी को उनका नाम भी याद नहीं रहेगा

आगामी चुनावों से पहले अपने कार्यकर्ताओं से एकजुट रहने की अपील करते हुए ठाकरे ने कहा, ‘जिन्होंने हमें परेशान किया है, उन्हें इतना कड़ा सबक सिखाया जाएगा कि अगली पीढ़ी को उनका नाम भी याद नहीं रहेगा’. ठाकरे ने मोदी की महाराष्ट्र यात्राओं को लेकर भी उन पर हमला बोला तथा कहा कि प्रधानमंत्री की पिछली कोंकण यात्रा के पश्चात् सिंधुदुर्ग से एक पनडुब्बी परियोजना गुजरात चली गई थी. उन्होंने कहा, ‘वह (मोदी) अक्सर महाराष्ट्र आते रहे हैं. मुझे डर है कि वह जहां भी आएंगे, वहां से कुछ न कुछ गुजरात ले जाएंगे’. उद्धव ठाकरे ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने दूसरों को अपनी पार्टी में लाने के चक्कर में अपनी पहचान खो दी है तथा उनकी पार्टी वहीं खड़ी है जहां पहले थी. उन्होंने कहा, ‘आज मुसलमान हमारे साथ आ रहे हैं, क्योंकि उन्हें एहसास हो गया है कि हमारा हिंदुत्व दो धर्मों के बीच आग लगाने के बारे में नहीं है. हमारा हिंदुत्व रसोई में चूल्हा जलाने के बारे में है, जबकि आपका (भारतीय जनता पार्टी का) हिंदुत्व घर जलाने के बारे में है।