हमने 10 साल गरीबों को समर्पित किए: प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान (पीएम-जनमन) के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के 1 लाख लाभार्थियों को पहली किश्त जारी की।

पीएम-जनमन के लाभार्थियों को संबोधित किया

प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर पीएम-जनमन के लाभार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि देश तभी विकसित हो सकता है जब सरकारी योजनाओं का लाभ सभी तक पहुंचे। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार के 10 गरीबों को समर्पित रहे हैं। मोदी ने कहा कि पीएम-जनमन लाभार्थियों से बात करके खुशी हुई। हमारी सरकार ने आदिवासियों के कल्याण के लिए तत्परता से काम किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज एक ओर जब अयोध्या में दीपावली मनाई जा रही है, तो दूसरी ओर एक लाख अति पिछड़े जनजातीय भाई-बहन जो मेरे परिवार के ही सदस्य हैं, ये मेरे जनजातीय परिवार, अति पिछड़े जनजातीय परिवार उनके घर दिवाली मन रही है, यह अपनेआप में मेरे लिए बड़ी खुशी है।

हमने 10 साल गरीबों को समर्पित किए

उन्होंने कहा कि आज की राज-कथा बिना गरीब, बिना वंचित, बिना वनवासी भाई-बहनों के कल्याण के संभव ही नहीं है। इसी सोच के साथ हम लगातार काम कर रहे हैं। हमने 10 साल गरीबों को समर्पित किए। गरीबों को 4 करोड़ से अधिक पक्के घर बनाकर के दिए हैं। जिनको कभी किसी ने पूछा नहीं, उनको मोदी आज पूछता भी है और पूजता भी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार की योजनाएं अति पिछड़े जनजातीय भाई-बहन तक पहुंचे, यही पीएम जनमन महाअभियान का उद्देश्य है। हमारे देश का विकास तभी हो सकता है जब समाज में कोई छूटे नहीं, हर किसी तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचे। सरकार पूरी ताकत लगा रही है कि हमारे अति पिछड़े जनजातीय भाई-बहनों तक सरकार की हर योजना जल्द से जल्द पहुंचे। मेरा कोई अति पिछड़ा भाई-बहन अब सरकार की योजना के लाभ से छूटेगा नहीं।

आज देश में वो सरकार है जो सबसे पहले गरीबों के बारे में सोचती

उन्होंने कहा कि आज देश में वो सरकार है जो सबसे पहले गरीबों के बारे में सोचती है। उन्होंने कहा, “आज देश में बो सरकार है जो सबसे पहले आप गरीबों के बारे में सौचती है। आज देश में वो सरकार है जो गरीबों की मुश्किलों कम करने के लिए काम करती है। जिनके पास कुछ नहीं है सबसे पहले हम उनके सुख दुख की चिंता कर रहे हैं।”

मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार जो आकांक्षी जिला प्रोग्राम चला रही है उसका सबसे बड़ा लाभ हमारे आदिवासी भाई-बहनों को ही मिला है। हमने आदिवासी इलाकों तक बिजली और सड़क पहुंचायी है। हमने ऐसी व्यवस्था की है कि एक राज्य का राशन कार्ड दूसरे राज्य में भी चल जाए। ऐसे ही आयुष्मान भारत योजना है। इस योजना के तहत आपको देशभर में कहीं भी मुफ्त इलाज मिलेगी ही मिलेगा।

स्किल सेल अनीमिया के खतरों से आप सभी अच्छी तरह परिचित

प्रधानमंत्री ने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान भी स्किल सेल की जांच की जा रही है। स्किल सेल अनीमिया के खतरों से आप सभी अच्छी तरह परिचित हैं। इस बीमारी से आदिवासी समाज की कई-कई पीढ़ियां प्रभावित रही हैं। अब सरकार कोशिश में जुटी है कि एक पीढ़ि से दूसरी पीढ़ी में जाने वाली ये बीमारी जड़ से समाप्त हो। उन्होंने कहा कि मेरे आदिवासी भाई बहन भले ही दूर दराज के इलाकों में रहते हों, लेकिन दूरदृष्टि कमाल की होती है। आज आदिवासी समाज देख और समझ रहा है कि कैसे हमारी सरकार जनजातीय संस्कृति और उनके सम्मान के लिए काम कर रही है।