पश्चिम बंगाल नगर निकायों में भर्तियों का मामला, मंत्री और टीएमसी नेताओं के यहां ईडी का छापा

कोलकाता। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार में मंत्री और तूणमूल कांग्रेस के नेता सुजीत बोस के यहां छापा मारा है। साथ ही पार्टी के दो और नेता के यहां भी सुबह-सुबह ईडी पहुंची है। तृणमूल विधायक तपस रॉय और नेता सुबोध चक्रवर्ती के घर भी केंद्रीय एजेंसी की छापेमारी जारी है। कार्रवाई कथित नगर पालिका नौकरी घोटाले के सिलसिले में की जा रही है।

ईडी ने नगर निकायों में भर्तियों में अनियमितता मामले की जांच को लेकर शुक्रवार सुबह पश्चिम बंगाल के अग्निशमन और आपातकालीन सेवा मंत्री सुजीत बोस, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) विधायक तापस रॉय और उत्तरी दमदम नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष सुबोध चक्रवर्ती के आवासों पर छापे मारे हैं। ईडी के अफसर दस्‍तावेज खंगालने में लगे हैं। मामले से जुड़े लोगों के अनुसार ईडी के अधिकारियों ने केंद्रीय बलों के साथ शुक्रवार सुबह उत्तर 24 परगना जिले के लेक टाउन इलाके में सुजीत बोस के दो आवासों पर छापे मारे। इसके अलावा तापस रॉय के बीबी गांगुली स्ट्रीट स्थित आवास और बिराती स्थित सुबोध चक्रवर्ती के आवास पर भी तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

टीएमसी व भाजपा नेताओं ने कहा
ईडी की छापेमारी पर पश्चिम बंगाल के मंत्री और टीएमसी नेता शशि पांजा ने कहा कि पार्टी के बयान का इंतजार करें, लेकिन यह पानी की तरह साफ है कि इसके पीछे राजनीतिक प्रतिशोध है। ऐसी गतिविधियां हमें परेशान करने के लिए ही की जा रही हैं। छापेमारी पर पश्चिम बंगाल विधानसभा के एलओपी और भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि चोर के घर में छापेमारी होगी ही। बंगाल के युवा और लोग चाहते हैं उन्हें सलाखों के पीछे जाना होगा।