काशी विश्वनाथ मंदिर के सभी पुजारियों को अब सैलरी के साथ मिलेगा हेल्थ इंश्योरेंस

Priest of Kashi Vishwanath temple will get 90 thousand rs salary, junior  and assistant priests will also get honorarium lclam - Indian News Weekly

वाराणसी । काशी विश्वनाथ में पहली बार 4 हजार स्टूडेंट्स संस्कृत में कम्प्टीशन देंगे. इसके लिए सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. कम्प्टीशन में सफल होने वाले छात्रों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सम्मानित करेंगे।

यह संस्कृत भाषा को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है. संस्कृत देव भाषा है और इसमें पाठ करना और पुजारियों को संस्कृत में ही मंत्रोच्चार करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. मंदिर में पुजारियों की सैलरी लगने के बाद से उनका बहुत बड़ा वर्ग उन्नति की ओर बढ़ रहा है. इसको देखते हुए सभी पुजारियों का हेल्थ इंश्योरेंस किया जाएगा।

पुजारियों को 10 हजार का इन्श्योरेंस

श्री काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास परिषद के सदस्य पंडित दीपक मलवीय ने बताया कि मंदिर के सभी पुजारियों की सैलरी लगने के बाद पुजारियों के हेल्थ पर काम किया जा रहा है. इसके लिए सभी पुजारियों को हेल्थ इंश्योरेंस की भी व्यवस्था जल्द से जल्द की जाएगी. सालभर में एक पुजारी का 10 हजार का हेल्थ इंश्योरेंस किया जाएगा. इसके लिए हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी से बात चल रही है. हेल्थ पॉलिसी से पुजारियों का मनोबल बढ़ेगा और उन्नति होगी।

पुजारियों के लिए ड्रेस कोड

मंदिर के पुजारियों के लिए जल्द ही डे्रस कोड भी लागू किया जाएगा. इसके लिए सालभर में एक फिक्स एमाउंट सभी पुजारियों को दिया जाएगा. इस एमाउंट से वह अपना ड्रेस बनवा सकेंगे. डे्रस पहनकर ही मंदिर में आना अनिवार्य होगा. इससे पता चल सकेगा कि श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के पुजारी हंै. इनके साथ पूजन वगैरह कोई भी भक्त करवा सकता है. डे्रस कोड न होने से कई श्रद्धालु पहचान नहीं पाते हैं कि कौन मंदिर का पुजारी है कौन बाहर का।

संस्कृत में कॉम्प्टीशन

दीपक मालवीय ने बताया कि संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए पहली बार श्री काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास परिषद संस्कृत में कम्प्टीशन करवा रहा है. इस कम्प्टीशन में शहर के 250 स्कूल-कॉलेज के बच्चे शामिल होंगे जिनकी संख्या 4000 के आसपास होगी. यह कम्प्टीशन 17 व 18 फरवरी को श्री काशी विश्वनाथ धाम में आयोजित किया जाएगा।

पीएम करेंगे सम्मानित

प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व ततीय स्थान पाने वाले छात्रों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 23 फरवरी को प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित करेंगे. प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए पहली बार 250 विद्यालय के छात्र भाग ले रहे हैं।

छात्रों को नि:शुल्क पाठयक्रम

सभी संस्कृत छात्रों को नि:शुल्क पाठ्यपुस्तक, वस्त्र और वाद्य यंत्र वितरित किया जाएगा. साथ ही संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के 66 टापर छात्रों को न्यास की ओर से छात्रवृत्ति भी प्रदान की जायेगी. सनातन शास्त्रों के विकास एवं संरक्षण के लिए न्यास ऐसे कार्यों को करता रहेगा।

पुजारियों के लिए 10 हजार का हेल्थ इंश्योरेंस किया जाएगा. इसके लिए हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी से बात चल रही है. – पंडित दीपक मालवीय, सदस्य, श्री काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास परिषद