‘दिल्ली से एक पर्ची आई और भजनलाल बन गए CM, डोटासरा ने तंज कसते हुए कहीं ये बात

जोधपुर। इस साल लोकसभा के चुनाव हो ने हैं। ऐसे में सभी पार्टियों ने चुनाव की तैयारियां तेज कर दी हैं। इसी कड़ी में राजस्थान में भी चुनावी अभियान तेज हो गया है। बीजेपी और कांग्रेस के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है। बीजेपी द्वारा पर्ची से सीएम बनाने को लेकर कांग्रेस लगातार हमला कर रही है। रविवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने तंज कसते हुए बताया कि कैसे अचानक भजनलाल शर्मा मुख्यमंत्री बन गए।

डोटासरा ने बताया कि एक घंटे पहले तक भजनलाल खाने और टेंट की व्यवस्था देख रहे थे। अचानक से उनका नाम सीएम पोस्ट के लिए प्रस्तावित किया गया। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली से एक पर्ची आई और शर्मा का नाम मुख्यमंत्री के तौर पर सामने आया। ‘पर्ची’ आने से एक घंटे पहले तक, शर्मा कार्यक्रम के भोजन और टेंट की व्यवस्था देख रहे थे। राज्य के एक भी वोटर ने यह सोचकर वोट नहीं डाला था कि राजस्थान में पर्ची वाला सीएम बनेगा। भजनलाल को खुद इसके बारे में नहीं पता था।’

कांग्रेस नेता ने कहा कि गजेंद्र सिंह शेखावत को राज्य का मुख्यमंत्री बनना था, लेकिन दिल्ली से एक पर्ची आई और एक अज्ञात व्यक्ति सीएम बन गया। डोटासरा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह टिप्पणी की। इस दौरान उनके साथ राज्य प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा और विपक्ष के नेता टीकाराम जूली भी जोधपुर में मौजूद थे। डोटासरा ने मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि अब भी शर्मा को कोई फैसला लेने के लिए दिल्ली से ‘पर्ची’ आने का इंतजार करना पड़ता है। पर्ची आने के बाद ही शर्मा अपना फैसला देते हैं।
डोटासरा ने बीजेपी पर लोगों की भावनाओं से खेलने और धार्मिक उन्माद फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने 10 साल में अपने वादे पूरे नहीं करने और लाखों युवाओं को बेरोजगार घूमने के लिए मोदी सरकार की आलोचना की। लोकसभा चुनाव की तैयारियों के बारे में बात करते हुए डोटासरा ने कहा कि कांग्रेस राज्य में 10-15 सीटें जीतेगी। इसे लेकर पार्टी ने तैयारियां शुरू कर दी है। मैं खुद सभी 25 लोकसभा क्षेत्रों का दौरा करूंगा।