जालंधर में डीसी की डिपो प्रमुखों से बैठक के बाद इंडियन ऑयल के तेल टैंकर की हड़ताल खत्म

जालंधर। पंजाब में हिट एंड रन कानून के विरोध में ट्रक चालकों की हड़ताल का असर दिखने लगा है। कई जिलों में पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल खत्म होने लगा है। वहीं दोपहर बाद जालंधर में डिप्टी कमिश्नर विशेष सारंगल और एसएसपी मुखविंदर सिंह भुल्लर ने इंडियन ऑयल सूची पिंड में इंडियन ऑयल के तेल टैंकर ऑपरेटर्स से बात की। इसके बाद टैंकर ऑपरेटरों ने हड़ताल खत्म कर दी है और जल्द ही जिले के पेट्रोल पंपों पर तेल की सप्लाई पहुंच जाएगी।

जालंधर के डीसी ने की डिपो प्रमुखों से बैठक, कहा-लोग घबराएं नहीं
पेट्रोल व डीजल की किल्लत के बीच जालंधर के डीसी विशेष सारंगल ने लोगों से न घबराने की अपील की है। पेट्रोल डीजल की सप्लाई सुचारू ढंग से करवाने के लिए डीसी ने मंगलवार को जिला प्रशासकीय परिसर में इंडियन ऑयल कार्पोरेशन, भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड सहित तेल कंपनियों के डिपो प्रमुखों के साथ बैठक की।

डिप्टी कमिश्नर ने सारंगल ने इन कंपनियों को अंदरूनी प्रबंधों द्वारा यह सुनिश्चित करने को कहा है कि ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल के कारण पेट्रोल-डीजल व एलपीजी सप्लाई प्रभावित नहीं होनी चाहिए।

पेट्रोल पंपों या किसी भी व्यक्ति द्वारा जमाखोरी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन पेट्रोल पंपों तक आपूर्ति की सुविधा के लिए कंपनियों को प्रत्येक प्रकार का सहयोग प्रदान करेगा। डिप्टी कमिश्नर ने यह चेतावनी भी दी कि पेट्रोल पंपों या किसी भी व्यक्ति द्वारा जमाखोरी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
डीसी ने लोगों से कहा कि जिले में पेट्रोल-डीजल की सप्लाई को लेकर चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। प्रशासन की तरफ से पूरी स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इस अवसर पर अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (शहरी विकास) जसबीर सिंह, अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (ज) मेजर डा. अमित महाजन, ज्वाईंट पुलिस कमिश्नर संदीप कुमार आदि भी मौजूद थे।

बठिंडा में भी हड़ताल की वजह से पेट्रोल पंपों पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। यहां प्रदर्शनकारी चालकों ने चेतावनी दी कि अगर उक्त कानून को वापस न लिया गया तो वे अपनी हड़ताल को तीन दिन से बढ़ाकर अनिश्चितकालीन कर देंगे।

सुनाम में मंगलवार सुबह से ही लोगों में पेट्रोल और डीजल को लेकर हाहाकार मच गया। यदि जल्द ही हड़ताल खत्म नहीं हुई तो प्रदेश के आधे पेट्रोल पंप ड्राई हो जाएंगे इसी बीच विभिन संगठनों ने हड़ताल को तुरंत खत्म कराने की मांग की है।

करियाना मर्चेंट एसोसिएशन के अजय मस्तानी, सेंटर आफ इंडियन ट्रेड यूनियन के जिला प्रतिनिधि वरिंदर कौशिक, किसान नेता दरबारा सिंह, यूथ जैन प्रतिनिधि अविनाश जैन आदि ने कहा कि यदि हड़ताल लंबी खींची तो रोजमर्रा की वस्तुओं की भी किल्लत होगी जिससे आम लोगों के हित प्रभावित होंगे।

ऑल पंजाब ट्रक यूनियन के प्रधान हैप्पी संधू ने कहा कि पिछले काफी समय से अपनी मांगों को लेकर सरकार से बातचीत करने को लेकर संघर्ष कर रहे हैं लेकिन इसका कोई हल नहीं किया गया। इसके चलते सोमवार को यूनियन ने हाईवे जाम कर दिया था। यूनियन ने कहा कि अगर उनकी मांग नहीं पूरी होती तो प्रदर्शन और बड़े स्तर पर लेकर जाया जाएगा।