आंग्ल नववर्ष के पहले दिन काशीपुराधिपति के दरबार में श्रद्धालुओं मत्‍था टेका

वाराणसी। आंग्ल नववर्ष लोगों ने धूमधाम से मनाया। नववर्ष के पहले दिन सोमवार को काशीपुराधिपति और मां अन्नपूर्णा के दरबार में दर्शन पूजन के लिए श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा। कड़ाके की ठंड और कोहरे के बावजूद हर—हर महादेव के गगनभेदी उद्घोष के बीच दरबार में बाबा का झांकी दर्शन पाकर श्रद्धालु आहलदित दिखे। मंदिर प्रबंधन के अनुसार सुबह 9 बजे तक लगभग ढ़ाई लाख श्रद्धालु दर्शन पूजन कर चुके थे। बाबा दरबार में दर्शन पूजन के पूर्व लोग पवित्र गंगा में आस्था की डुबकी रहे। इस दौरान बाबा विश्वनाक के प्रति युवाओं की श्रद्धा गंगा की मौजों की तरह उफान मारती रही। आंग्ल नववर्ष का गर्मजोशी से स्वागत के साथ जीवन में एक नई उम्मीद, नई शुरूआत के लिए बाबा और भगवती अन्नपूर्णा के आशीर्वाद पाने के लिए युवा घंटों कतार में रहे।
इस दौरान उनके चेहरे पर थकान का नामोनिशान नही दिखा। उधर, बाबा विश्वनाथ दरबार के साथ श्री संकटमोचन दरबार, दुर्गाकुण्ड स्थित भगवती कुष्मांडा दरबार,काशी हिन्दू विश्वविद्यालय स्थित विश्वनाथ मंदिर, लक्ष्मी मंदिर लक्ष्मीकुण्ड में भी युवाओ की दर्शन पूजन के लिए भारी भीड़ जुटी। दर्शन पूजन के बाद युवाओं ने जमकर मस्ती की। सारनाथ, गंगा तट,उस पार रेती में, अस्सीघाट पर युवा मौजमस्ती करते रहे। गंगा उसपार रेती में लोगों ने परिवार के साथ गये लोगों ने मस्ती की। शहर में आटो चालक अपने वाहनों को सजाकर गुब्बारे लगा चल रहे थे।