Rain Alert: कड़ाके की ठंड में बारिश की संभावना, बिहार से लेकर बंगाल तक अभी और बिगड़ेगा मौसम

नई दिल्‍ली । 2024 की शुरुआत से ही उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। कोहरे और शीतलहर के प्रकोप ने मुश्किलें और ज्यादा बढ़ा दी है। ऊपर से बर्फीली हवाओं ने लोगों की कंपकपी छुड़ा रखी है। सर्दी के बचने के लिए लोग अलाव के आसपास नजर आ रहे हैं।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोमवार सुबह ठंड जारी रही और न्यूनतम तापमान औसत से 4 डिग्री सेल्सियस नीचे यानी 3.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह इस मौसम का सबसे कम तापमान है। मौसम अधिकारियों ने बताया कि शहर के कई इलाकों में घना कोहरा छाया रहा। दिल्ली में रविवार को न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो कि सोमवार से पहले तक मौसम का सबसे कम तापमान था।

दिल्ली-एनसीआर के अलावा पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी ठंड का यही आलम है। खराब मौसम से बेहाल लोगों के मन में यही सवाल उठ रहा है कि आखिर इससे राहत कब तक मिलेगी। चलिए, हम आपको बताते हैं कि मौसम विभाग ने अगले 5 दिनों को लेकर क्या पूर्वानुमान लगाया है। IMD के मुताबिक, 16 जनवरी को हिमालयी इलाके में ताजा पश्चिम विक्षोभ अपना असर दिखा सकता है। इसके चलते जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की बारिश हो सकती है। साथ ही 17 और 18 जनवरी को यहां के अलग-अलग क्षेत्रों में बर्फबारी होने का भी अनुमान है।

बिहार से लेकर सिक्किम तक बरसेंगे बदरा

मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में ठंड का प्रकोप और ज्यादा बढ़ सकता है। बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, ओडिशा और पश्चिम बंगाल से लेकर सिक्किम तक बरसात होने के आसार हैं। मंगलवार और बुधवार को इन राज्यों के अलग-अलग इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। आईएमडी की ओर से जारी प्रेस रिलीज में कहा गया कि 17 जनवरी को अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम में भारी वर्षा होने का अनुमान है। ठंड में बारिश के बीच घना कोहरा भी मुश्किलें बढ़ाने वाला है। मौसम विभाग का कहना है कि 18 जनवरी तक पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में घना से बहुत घना कोहरा रह सकता है। इस दौरान उत्तर प्रदेश और बिहार के भी तमाम इलाके कोहरे की चपेट में रहेंगे।

खराब मौसम के कारण फ्लाइट्स के रूट में बदलाव

बता दें कि दिल्ली हवाई अड्डे पर आने वाली 5 उड़ानों के मार्ग में सोमवार सुबह खराब मौसम के कारण बदलाव किया गया। अधिकारी ने बताया कि देर रात 1 बजे से तड़के 5 बजे के बीच चार उड़ानों को मार्ग बदलकर जयपुर और एक उड़ान को अहमदाबाद भेजा गया। रविवार को 10 उड़ानों का मार्ग परिवर्तित किया गया था और कुछ को रद्द किया गया था। कम दृश्यता और घने कोहरे के कारण हवाई अड्डे पर विमान संचालन काफी प्रभावित हुआ है। वहीं, चेन्नई में भी खराब मौसम के कारण सिचुआन एयरलाइंस की एक उड़ान के मार्ग में बदलाव किया गया। इसे तिरुनंतपुरम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की ओर मोड़ दिया गया। तिरुवनंतपुरम अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा लिमिटेड के अधिकारियों ने बताया कि चीन के चेंगदू से आ रहा मालवाहक विमान सुबह करीब 8 बजकर 37 मिनट पर यहां हवाई अड्डे पर सुरक्षित उतरा।