रामेश्वरम के लिए पंबन ब्रिज पर फिर से दौड़ेगी ट्रेन, समुद्र के ऊपर अलग होगा नजारा

First vertical-lift railway sea bridge in India fast-tracked; pilgrims to  Rameswaram will benefit | know this engineering marvel | Zee Business

नई दिल्‍ली । अगर आप रामेश्वरम धाम जाना चाहते हैं तो यह आपके लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है। अब देश के किसी भी कोने से रामेश्वरम धाम पहुंचना आसान हो जाएगा। पंबन ब्रिज का काम लगभग पूरा हो चुका है। करीब 400 मीटर ब्रिज का काम और बचा हुआ है, जो आने वाले जून 2024 तक खत्म हो जाएगा। इसके बाद यहां से ट्रेन एक बार फिर से ब्रिज पर दौड़ेगी और साथ ही समुद्र के बीच से गुजरती हुई यात्रियों को रोमांच का अनुभव कराएगी।

रामेश्‍वरम का सफर आसान होने वाला है

देशभर के कोने-कोने से लोग रामेश्‍वरम जो धार्मिक स्‍थल है अब सीधा ट्रेन से पहुंच सकेंगे। यहां तक सीधा ट्रेन चलाने के लिए समुद्र पर पंबन ब्रिज का निर्माण किया जा रहा है, जो बनकर लगभग तैयार हो गया है ट्रेनों का संचालन इस साल शुरू हो जाएगा।

वर्टिकल सी लिफ्ट ब्रिज का 2019 में पीएम मोदी ने किया था शुभारंभ

आपको बता दें कि वर्टिकल सी लिफ्ट ब्रिज का निर्माण कार्य का शुभारंभ 2019 में प्रधानमंत्री मोदी ने किया था। कोरोना काल मे काम पर असर पड़ा था और इसके निर्माण में देरी हो गई, लेकिन अब यह ब्रिज बनकर लगभग तैयार गया है।

545 करोड़ रुपये की लागत से हो रहा तैयार

यह ब्रिज यह पुल 2.08 किमी लंबा होगा। पुराने पुल की तुलना में नया पुल तीन मीटर ऊंचा और समुद्र तल से 22 मीटर ऊंचा होगा। 18.3 मीटर के 100 स्पैन और 63 मीटर का एक नेविगेशनल स्पैन होगा। यह समुद्र तल से 22.0 मीटर की नेविगेशनल एयर क्लीयरेंस के साथ मौजूदा पुल से 3.0 मीटर ऊंचा होगा। वर्टिकल ब्रिज के निर्माण 545 करोड़ रुपये से ज्‍यादा की लागत आ रही है।

पुराने ब्रिज के बगल में ही नए ब्रिज का हुआ निर्माण

पुराना पुल करीब 107 साल पुराना था, जिस पर ट्रेन बहुत ही धीमी रफ्तार से चलती थी। सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए इसे दिसंबर, 2022 में बंद करने का फैसला लिया गया था। पुराने ब्रिज के बगल में ही नए ब्रिज का निर्माण किया जा रहा है, पुराना रेल ब्रिज 1914 में बनाया गया था, पहले ट्रेन मंडपम और रामेश्वरम द्वीप के बीच इसी ब्रिज से जाती थी। पुराने पुल के एक ओर वाहनों के लिए पुल बना है और दूसरी ओर वर्टिकल सी लिफ्ट ब्रिज का निर्माण किया जा रहा है। सड़क पुल के माध्यम से अभी लोग मंडपम से रामेश्वरम जाते हैं।

20 मिनट में होगा पूरा सफर

रामेश्वरम के लिए ट्रेनें पहले तमिलनाडु में रामनाथपुरम जिले के मंडपम पहुंचती थीं और पंबन ब्रिज से ट्रेनें रामेश्वरम तक पहुंचती थीं। इस तरह लोग केवल 45 मिनट में तीर्थनगरी रामेश्‍वरम में पहुंच जाते थे। मौजूदा समय सभी ट्रेनें मंडपम में समाप्त होती हैं और लोग रामेश्वरम तक पहुंचने के लिए समुद्र पर बने पुल होते हुए सड़क मार्ग से जाते हैं। पंबन ब्रिज का काम पुरा होने के बाद 20 मिनट मे ट्रेन मंडपम से रामेश्वरम पहुंचेंगी। रामेश्‍वरम देश-विदेश से लाखों लोग आते हैं, यही कारण है कि सड़क पुल पर अक्सर जाम लगा रहता हैइस वजह से पंबन पर वर्टिकल रेलवे ब्रिज को तैयार किया जा रहा है।