InterimBudget2024: यह समावेशी और अभिनव का बजट जो विकसित भारत को मजबूत करेंगा: पीएम मोदी

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को पेश किए गए बजट की सराहना करते हुए इसे केवल एक अंतरिम बजट नहीं बल्कि एक समावेशी और अभिनव बजट बताया। उन्होंने कहा कि यह बजट 2047 के विकसित भारत की नींव को मजबूत करने की गारंटी देता है।

प्रधानमंत्री ने वीडियो संदेश के माध्यम से बजट पर टिप्पणी करते हुए कहा, “यह समावेशी और अभिनव बजट है। इसमें निरंतरता का आत्मविश्वास है। ये बजट विकसित भारत के चार स्तंभ- युवा, गरीब, महिला और किसान सभी को सशक्त करेगा।” मोदी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की दूरदर्शिता की सराहना करते हुए कहा, “निर्मला सीतारमण का बजट देश के भविष्य के निर्माण का बजट है। यह बजट 2047 तक विकसित भारत की नींव को मजबूत करने की गारंटी देता है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह बजट युवा भारत की आकांक्षाओं का प्रतिबिंब है। उन्होंने बजट में लिए गए दो महत्वपूर्ण निर्णयों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि रिसर्च और इनोवेशन के लिए एक लाख करोड़ रुपये का फंड बनाने की घोषणा की गई है। उन्होंने बजट में स्टार्टअप्स के लिए टैक्स छूट के विस्तार पर भी प्रकाश डाला।

राजकोषीय घाटे को नियंत्रण में रखा है

प्रधानमंत्री ने कहा कि राजकोषीय घाटे को नियंत्रण में रखते हुए कैपिटल एक्सपेंडिचर को 11 लाख 11 हजार 111 करोड़ रुपये की ऐतिहासिक ऊंचाई दी गई है। अर्थशास्त्रियों की भाषा में प्रधानमंत्री ने कहा कि यह एक प्रकार का स्वीट स्पॉट है। उन्होंने कहा कि यह भारत में 21वीं सदी के आधुनिक बुनियादी ढांचे के निर्माण के साथ-साथ युवाओं के लिए रोजगार के लाखों नए अवसर पैदा करेगा। उन्होंने वंदे भारत मानक की 40,000 आधुनिक बोगियों का निर्माण करने और उन्हें सामान्य यात्री ट्रेनों में स्थापित करने की घोषणा के बारे में भी बताया, जिससे देश के विभिन्न रेल मार्गों पर करोड़ों यात्रियों की सुविधा और यात्रा अनुभव में वृद्धि होगी।

हमने एक बड़ा लक्ष्‍य तय किया है

महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “हम एक बड़ा लक्ष्य तय करते हैं, उसे हासिल करते हैं और फिर अपने लिए उससे भी बड़ा लक्ष्य तय करते हैं।” उन्होंने गरीबों और मध्यम वर्ग के कल्याण के लिए सरकार के प्रयासों पर प्रकाश डालते हुए गांवों और शहरों में 4 करोड़ से अधिक घरों के निर्माण और 2 करोड़ और नए घर बनाने का लक्ष्य बढ़ाने की जानकारी दी। महिला सशक्तीकरण पर जोर देते हुए मोदी ने कहा, “हमने दो करोड़ महिलाओं को लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा था। अब इस लक्ष्य को बढ़ाकर तीन करोड़ लखपति दीदी बनाने का कर दिया गया है।”

आयुष्मान भारत योजना की प्रशंसा की

प्रधानमंत्री ने गरीबों को सहायता देने, आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं को इसका लाभ देने के लिए आयुष्मान भारत योजना की प्रशंसा की। मोदी ने इस बजट में गरीबों और मध्यम वर्ग के लिए नए अवसर पैदा करके उन्हें सशक्त बनाने पर सरकार का जोर दिया। उन्होंने रूफ टॉप सोलर अभियान का उल्लेख किया, जहां एक करोड़ परिवार मुफ्त बिजली का लाभ उठाएंगे, साथ ही सरकार को अतिरिक्त बिजली बेचकर प्रति वर्ष 15 से 20 हजार रुपये की आय भी अर्जित करेंगे।

आयकर छूट योजना का उल्लेख किया

प्रधानमंत्री ने आज घोषित आयकर छूट योजना का उल्लेख किया जिससे मध्यम वर्ग के लगभग एक करोड़ नागरिकों को राहत मिलेगी। बजट में किसान कल्याण को लेकर लिए गए प्रमुख फैसलों पर मोदी ने नैनो डीएपी के उपयोग, पशुओं के लिए नई योजना, पीएम मत्स्य सम्पदा योजना के विस्तार और आत्मनिर्भर तेल बीज अभियान का उल्लेख किया, जिससे किसानों की आय बढ़ेगी और खर्च कम होंगे।