‘मोहब्बत की दुकान’ में नफरत ज्यादा नजर आ रहा, अनुराग ठाकुर का इंडिया गठबंधन पर करारा वार

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अब कुछ ही महीनों का समय बचा है लेकिन इससे पहले ही कांग्रेस और सभी विपक्षी दलों के गठबंधन ‘इंडिया’को संकट का सामना करना पड़ रहा है। इस गठबंधन में कभी कोई तो कभी कोई नेता खफा हो जाता है।
इस बीच शनिवार (27 जनवरी) को केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कांग्रेस और इंडिया गठबंधन को पर जमकर हमला बोला है और कहा है कि देखें आगे क्या-क्या होता है?

अनुराग ठाकुर ने इस बात का जवाब तब दिया जब मीडिया कर्मियों ने उनसे सवाल किया कि इंडिया गठबंधन और कांग्रेस धीरे-धीरे अलग-थलग पड़ती जा रही है।
अनुराग ठाकुर ने ये भी कहा कि INDIA गठबंधन का मतलब है बिखरना, क्योंकि कांग्रेस कभी अपने सहयोगियों के साथ न्याय नहीं कर सकती। इसके बाद अनुराग ठाकुर ने बोला कि जो लोग अपने गठबंधन दलों के साथ न्याय नहीं कर सके, जिनकी ‘मोहब्बत की दुकान’ में नफरत ज्यादा नजर आई, उन्हें तो आखिर बिखरना ही था। जो लोग कभी मान-सम्मान नहीं दे सकते, निर्णय नहीं कर सकते, वो कभी किसी को न्याय कैसे देंगे।

अनुराग ठाकुर का ये बयान तब आया है जब कि नीतिश कुमार अपनी पार्टी जेडीयू को ‘महागठबंधन’ से बाहर निकालकर पाला बदल सकते हैं। अनुराग ठाकुर का ये बयान इसलिए भी अहम है क्योंकि इससे पहले मोदी सरकार के किसी मंत्री ने इस पर अप्रत्यक्ष रूप से पब्लिक में टिप्पणी नहीं की थी। अपने इन बयानों से अनुराग ठाकुर ने कांग्रेस और इंडिया गठबंधन पर जमकर हमला किया है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में ममता ने पहले ही एकला चलो का निर्णय लिया हुआ है। हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने शनिवार को यह जरूर सफाई दी है कि पश्चिम बंगाल ममला बनर्जी ने भी अकेले लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसले किया है।