कांग्रेस की ‘न्याय यात्रा” शुक्रवार को झारखंड में करेगी प्रवेश

नई दिल्‍ली । कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ शुक्रवार दोपहर को झारखंड में प्रवेश करेगी। पार्टी के एक नेता ने यहां यह जानकारी दी। नेता ने बताया कि यात्रा के पश्चिम बंगाल से अपराह्न 2.45 मिनट पर पाकुड़ जिले से होते हुए राज्य में प्रवेश करने की संभावना है।

कांग्रेस की झारखंड इकाई के अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने बताया कि यात्रा के राज्य में पहुंचने के बाद पाकुड़ के नसीपुर मोड़ पर गांधी एक जनसभा को संबोधित करेंगे।

यात्रा उसी दिन झारखंड में प्रवेश करेगी जिस दिन राज्य को नया मुख्यमंत्री मिलेगा। झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) विधायक दल के नेता चंपई सोरेन शुक्रवार को झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। चंपई सोरेन ने राज्यपाल से जल्द से जल्द सरकार बनाने के उनके दावे को स्वीकार करने का आग्रह किया था, क्योंकि राज्य में ‘भ्रम’ की स्थिति बनी हुई थी।

न्याय यात्रा का झारखंड चरण आज से शुरू

यह स्थिति बुधवार को हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद से राज्य में मुख्यमंत्री न होने की वजह से थी और इसके कारण राजनीतिक संकट गहरा गया था। कांग्रेस पार्टी राज्य में झामुमो के नेतृत्व वाले बहुमत गठबंधन की घटक है। ठाकुर ने गुरूवार को कहा था कि ‘न्याय यात्रा’ के राज्य में प्रवेश करने से पहले नए मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण समारोह पूरा हो जाएगा। ठाकुर ने कहा कि राहुल गांधी की न्याय यात्रा का झारखंड चरण आज से शुरू होगा।

13 जिलों में 804 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी

इस यात्रा का उद्देश्य झारखंड और देश के लोगों के लिए न्याय सुनिश्चित करना है।” गांधी पाकुड़ के हिरणपुर में शाम को कुछ देर विश्राम करेंगे और लिट्टीपाड़ा में रात्रि विश्राम करेंगे। यह यात्रा दो चरणों में होगी और इस दौरान आठ दिन के दौरान 13 जिलों में 804 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। कांग्रेस प्रवक्ता राकेश सिन्हा ने बताया कि गांधी पहले चरण में छह दिन और दूसरे चरण में दो दिन झारखंड में रहेंगे। उन्होंने बताया कि यात्रा के दूसरे चरण की तारीख अभी तय नहीं हुई है। मणिपुर से 14 जनवरी को शुरू हुई ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ 67 दिनों में 6,713 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और 15 राज्यों के 110 जिलों से होते हुए 20 मार्च को मुंबई में समाप्त होगी।