कौन हैं कांग्रेस का यह सांसद? जिसने साउथ इंडिया के लिए कर दी अलग देश की मांग

 

नई दिल्ली । कांग्रेस सांसद डी के सुरेश (Congress MP DK Suresh)ने एक ऐसा बयान दे दिया है जिससे बवाल मच गया है. डी के सुरेश ने दक्षिण भारत (south india)के लिए ‘अलग देश’ बनाने की डिमांड कर दी है. उन्होंने कहा है कि अगर विभिन्न करों से एकत्रित धनराशि के वितरण (distribution of funds)के मामले में दक्षिणी राज्यों के साथ हो रहे ‘अन्याय’ को ठीक नहीं किया गया तो दक्षिणी राज्य एक अलग राष्ट्र की मांग करने के लिए मजबूर हो जाएंगे।

डी के सुरेश ने यह दावा किया कि दक्षिण से एकत्रित कर की धनराशि को उत्तर भारत में वितरित किया जा रहा है और दक्षिण भारत को उसका उचित हिस्सा नहीं मिल रहा है. वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सुरेश के इस बयान को लेकर उनकी कड़ी आलोचना की है. बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास ‘फूट डालो और राज करो’ का रहा है. उनके सांसद डीके सुरेश फिर वही चाल चल रहे हैं. वो उत्तर और दक्षिण को बांटना चाहते हैं।

कौन हैं डी के सुरेश?

मालूम हो कि डीके सुरेश कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री डीके शिवकुमार के छोटे भाई हैं. वह कर्नाटक की बेंगलुरु ग्रामीण सीट से सांसद हैं. कर्नाटक से वही कांग्रेस के इकलौते सांसद हैं. डीके का जन्म 1 अप्रैल 1966 को कर्नाटक के रामनगर जिले के कनकपुरा में हुआ था. उनकी सियासी पारी साल 2103 में शुरू हुई थी. 21 मई 2013 को हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने डीके सुरेश को उम्मीदवार बनाया. इस उपचुनाव में जीतकर डीके सुरेश पहली बार लोकसभा पहुंचे थे।

कितनी है संपत्ति

डीके सुरेश तीन बार सांसद रह चुके हैं. डीके सुरेश ने 12वीं तक पढ़ाई की है. चुनाव आयोग में दाखिल हलफनामे के अनुसार वग किसान और कारोबारी हैं. हलफनामे में उन्होंने अपने पास 338 करोड़ रुपये की संपत्ति होने की बात को कबूला था. हैरान करने वाली बात ये है कि 2014 में उनके पास 85.87 करोड़ रुपये की संपत्ति थी. इसका मतलब है कि पांच साल में उनकी संपत्ति तीन गुना ज्यादा बढ़ गई।