कांग्रेस को दिल्‍ली की तीन लोकसभा सीट चुनाव लड़ने पर राजी AAP, क्‍या इन राज्‍यों में बनेगी बात?

सीटों का बंटवारा, PM फेस का सवाल! इन 6 राज्यों में 'INDIA' ब्लॉक के  क्षत्रपों को कैसे मनाएगी कांग्रेस? - Congress to begin seat sharing talks  with INDIA allies from today to

नई दिल्‍ली । कांग्रेस (Congress)और आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party)के नेताओं ने लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections)को लेकर सीटों के बंटवारे पर चर्चा (Discussion)के लिए नई दिल्ली में बैठक (meeting)की। इस दौरान जोर दिया गया कि दोनों दल एकजुट होकर भारतीय जनता पार्टी को शिकस्त देंगे। मीटिंग के बाद सीट बंटवारे को लेकर ज्यादा जानकारी साझा नहीं की गई, हालांकि उनका कहना था कि दोनों दल मिलकर चुनाव लड़ेंगे। आम आदमी पार्टी दिल्ली और पंजाब में सत्तारूढ़ है। AAP ने गुजरात विधानसभा चुनाव में भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई थी। सूत्रों का कहना है कि आम आदमी पार्टी गुजरात और हरियाणा में भी कांग्रेस से सीटों की अपेक्षा रखती है। पंजाब में कांग्रेस मुख्य विपक्षी दल है। पिछले लोकसभा चुनाव में उसने प्रदेश की 13 में से 8 सीटें जीती थीं।

इंडिया गठबंधन में शामिल दोनों दलों ने समझौते को अंतिम रूप देने के लिए फिर बैठक करने का फैसला किया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लोकसभा की 7 सीटें हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि आप दिल्ली में कांग्रेस को 3 सीटें देना चाहती है। गुजरात के लिए आम आदमी पार्टी की ओर से 1 लोकसभा सीट की डिमांड रखी गई है। वहीं, हरियाणा की कुल 10 लोकसभा सीटों में से AAP ने 3 सीटों की मांग की है। इसके अलावा गोवा में भी एक सीट पर आप अपना उम्मीदवार खड़ा करना चाहती है। अगर पंजाब की बात करें तो वहां की 13 सीटों में से AAP कांग्रेस को 6 सीटें देने को तैयार है।

बैठक के बाद क्या बोले कांग्रेस नेता

कांग्रेस की राष्ट्रीय गठबंधन समिति के सदस्यों के साथ AAP के नेताओं संदीप पाठक, सौरभ भारद्वाज और आतिशी ने बैठक की। इसमें कांग्रेस की ओर से गठबंधन समिति के संयोजक मुकुल वासनिक, राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कुछ अन्य नेता शामिल हुए। मीटिंग के बाद कांग्रेस नेता वासनिक ने कहा कि चुनाव से संबंधित कई मुद्दों पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा, ‘हमने आगामी चुनावों के लिए कई मुद्दों को लेकर बैठक की। बातचीत जारी रहेगी और हम फिर मिलेंगे। उसके बाद ही हम सीटों के बंटवारे पर अंतिम फैसला लेंगे। हर चीज पर विस्तार से चर्चा हुई। हम एक साथ चुनाव लड़ेंगे। हम भाजपा को शिकस्त देंगे।’ उन्होंने कहा कि सीट बंटवारे को लेकर जल्द फैसला होगा।

पंजाब में AAP से गठबंधन के पक्ष में नहीं कई नेता

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कई प्रमुख नेता प्रदेश में आप के साथ गठबंधन के पक्ष में नहीं रहे हैं। पिछले दिनों प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अरमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने कहा था कि AAP के साथ गठबंधन पर फैसला कांग्रेस आलाकमान को करना है। वहीं, कांग्रेस के पंजाब प्रभारी देवेंद्र यादव ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव के लिए राज्य में आप के साथ कोई भी समझौता पार्टी की प्रदेश इकाई की भावनाओं के अनुरूप किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘हम चंडीगढ़ में वरिष्ठ नेताओं और ब्लॉक अध्यक्षों सहित विभिन्न पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। मैं लोगों की भावनाएं जानना चाहता हूं। पार्टी नेतृत्व ने कुछ दिन पहले स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा था कि हमारे नेताओं और लोगों की जो भावना होगी, उसी के तहत निर्णय लिया जाएगा।’