महुआ मोइत्रा की टिकट पर ममता बनर्जी का बड़ा ऐलान, इशारों में कही बड़ी बात

कोलकाता । ‘कैश पर क्वेरी’ केस में लोकसभा की सदस्यता गंवाने वाली तृणमूल कांग्रेस की तेज-तर्रार नेता महुआ मोइत्रा को आगमाी आम चुनाव में टिकट दिए जाने की संभावना को लेकर लंबे समय से कयास लगाए जा रहे हैं।

वह फिलहाल तृणमूल कांग्रेस की नादिया नॉर्थ जिले की अध्यक्ष हैं. इसी जिले की कृष्णानगर लोकसभा सीट से वह सांसद चुनी गई थीं. अब खुद पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने महुआ को लेकर भरी सभा में बड़ा ऐलान कर दिया।

लोकसभा से बेदखल होने के बाद सुप्रीम कोर्ट में चुनौती

महुआ लोकसभा से खुद को बेदखल किए जाने के मामले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती भी दे रखी हैं. सांसदी गंवाने के कारण दिल्ली में मिले उनके सरकारी बंगले को भी सरकार ने खाली करवा लिया गया है. महुआ पश्चिम बंगाल में कृष्णानगर सीट से पहली बार सांसद बनी थीं. संसद की एथिक्स कमेटी की अनुशंसा पर उन्हें लोकसभा से बाहर कर दिया गया. लेकिन ऐसा लगता है कि तृणमूल कांग्रेस और उसकी सुप्रीमो ममता बनर्जी उनके साथ खड़े हैं. गुरुवार को एक सभा में बनर्जी की मंच पर महुआ मोइत्रा मौजूद थीं।

ममता का ऐलान

मंच से ही ममता बनर्जी ने कहा कि भाजपा ने महुआ को लोकसभा से क्यों बाहर करवाया, क्योंकि वह सदन में जनता की आवाज बनकर उभर रही थीं. उन्होंने आगे कहा कि तुम उन्हें बल पूर्वक सदन से बाहर कर सकते हो, लेकिन वह जनता के वोट से जीतकर लौटेंगी. उन्होंने कहा कि वह समझती हैं कि महुआ के साथ जो हुआ है उसके खिलाफ जनता अपना फैसला सुनाएगी।

इस बार रानाघाट में भी हमें आपका समर्थन मिलेगा

महुआ अभी नादिया नॉर्थ जिले की टीएमसीप्रमुख हैं. इसी जिले में कृष्णानगर लोकसभा सीट आता है. यहीं महुआ सांसद चुनी गई थीं. ममता बनर्जी के साथ मंच पर महुआ भी मौजूद थीं. ममता के इस ऐलान के बाद ऐसा माना जा रहा है कि कृष्णानगर सीट से टीएमसी एक बार महुआ को अपना उम्मीदवार बनाएगी।

ममता ने आगे कहा कि आपने राणाघाट क्षेत्र में एक व्यक्ति को जिताया था. आपको पता है न कि वह क्या कर रहा है. उम्मीद है इस बार रानाघाट में भी हमें आपका समर्थन मिलेगा. उन्होंने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि चुनाव जीतने के लिए सभी को गिरफ्तार किया जा रहा है. उन्होंने चुनौती देते हुए कहा कि तुम मुझे भी जेल में डाल दोगे तो भी मैं जेल से छूट जाऊंगी़।