2024 की जीत हासिल करने के लिए आश्‍वस्‍त भाजपा, सीटों को लेकर त्रिपुरा के CM माणिक साहा ने कही यह बात

नई दिल्‍ली । लोकसभा चुनाव 2024 पर सबकी नजरें टिकी हैं। प्रधानमंत्री मोदी लगातार तीसरी बार राजनीतिक विजय हासिल करने के प्रति आश्वस्त दिख रहे हैं। उन्होंने कई भाषणों में इसके संकेत भी दिए हैं। भाजपा की मजबूत तैयारियों को देखते हुए कुछ समीक्षकों ने कहा है कि इस साल बीजेपी 400 से अधिक सीटें जीत सकती है।

ताजा घटनाक्रम में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री और भाजपा नेता माणिक साहा ने कहा है कि इस बार के लोक सभा चुनाव में भाजपा को 450 से भी अधिक सीटें मिलने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि चुनाव की स्थिति और तैयारियों को देखते हुए, भाजपा की झोली में आने वाली सीटों की संख्या 450 के आंकड़े के करीब पहुंच सकती है।

त्रिपुरा की जनता के घरों पर कमल के निशान!

गौरतलब है कि 2019 के चुनाव में भाजपा ने 303 सीटें जीतीं, जबकि कांग्रेस को केवल 52 सीटों से संतोष करना पड़ा। पांच साल के बाद बदले हुए सियासी समीकरण और पार्टियों की संभावना पर माणिक साहा ने रविवार को कहा, त्रिपुरा की दोनों संसदीय सीटों को भारी अंतर से जीतने का लक्ष्य रखा गया है। भाजपा का संगठन जमीनी स्तर पर काम पहले ही शुरू कर चुका है। साहा ने जब यह बयान दिया उस समय वे अपने निर्वाचन क्षेत्र- टाउन बारडोवाली में पार्टी के प्रतीक कमल का प्रतीकात्मक चित्रण कर रहे थे।

मंदिरों में पूजा-अनुष्ठान और साफ-सफाई करने की अपील

मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों से अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के उपलक्ष्य में मंदिरों में स्वच्छता अभियान चलाने की अपील भी की। बता दें कि खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में 22 जनवरी के दिन भीड़ जुटाने से बचने का आह्वान करते हुए अपने घरों पर या आस-पास के मंदिरों में पूजा-अनुष्ठान और साफ-सफाई करने की अपील की है। इसी कड़ी में साहा ने जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद परिसर में सफाई अभियान में शिरकत की।

जगन्नाथ मंदिर में स्वच्छता अभियान

उन्होंने भाजपा के कार्यक्रम के बारे में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म- एक्स पर पोस्ट किया। सीएम माणिक साहा ने लिखा, ‘आज, मैं प्रधानमंत्री की अपील के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ यहां जगन्नाथ मंदिर में स्वच्छता अभियान में शामिल हुआ… मैं राज्य के लोगों से सभी मंदिरों में स्वच्छता अभियान में शामिल होने की अपील करता हूं। अभियान 22 जनवरी तक जारी रहेगा।’

 

मंदिरों में सफाई अभियान, जनता से जुड़ने का आह्वान

22 जनवरी के ‘ऐतिहासिक क्षण के महत्व’ पर जोर देते हुए सीएम साहा ने कहा, ‘पिछले 500 वर्षों से हिंदू समाज इस क्षण का इंतजार कर रहा था। आखिरकार पीएम मोदी के नेतृत्व में 22 जनवरी को मंदिर के गर्भगृह में प्राण प्रतिष्ठा के बाद हम सभी राम लला के साक्षी बनेंगे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राजीब भट्टाचार्य ने भी रामकृष्ण मिशन आश्रम में स्वच्छता अभियान में हिस्सा लिया। उन्होंने कहा, भगवान राम 22 जनवरी को अयोध्या लौट रहे हैं। इस अवसर को यादगार बनाने के लिए, हमने प्रधानमंत्री के आह्वान पर राज्य के सभी मंदिरों में सफाई अभियान चलाया। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, मैं लोगों से इस अभियान में शामिल होने की अपील करता हूं।