जेल में बंद संजय सिंह को फिर राज्यसभा सांसद बनाने आप ने साइन के लिए कोर्ट से मांगी इजाजत

नई दिल्ली। कथित शराब घोटाले में जेल में बंद वरिष्ठ नेता संजय सिंह को आम आदमी पार्टी एक बार फिर राज्यसभा भेजने की तैयारी में जुटी है। पार्टी ने उन्हें दोबारा उच्च सदन में भेजने के लिए नामित किया है। कोर्ट में दिए गए एक आवदेन से यह जानकारी सामने आई है। संजय सिंह का मौजूदा कार्यकाल 27 जनवरी को खत्म हो रहा है।
दिल्ली की राऊज एवेन्यू अदालत में एक आवदेन देकर संजय सिंह का हस्ताक्षर लेने की अनुमति मांगी गई है। आवेदक को राज्यसभा से ‘एनओसी’ लेनी होती है, जिस पर संजय सिंह के हस्ताक्षर की आवश्यकता है। वह 2018 में दिल्ली से राज्यसभा सांसद चुने गए थे। आंदोलन के दौर से ही अरविंद केजरीवाल के साथी रहे संजय सिंह का पार्टी में बड़ा कद है। वह राज्यसभा में आम आदमी पार्टी के संसदीय दल के नेता भी हैं।
दिल्ली में राज्यसभा की तीन सीटें हैं और सभी का कार्यकाल एक साथ 27 जनवरी को खत्म हो रहा है। 19 जनवरी को इन तीनों सीटों के लिए चुनाव होंगे। इसके लिए नामांकन की प्रक्रिया 3 जनवरी से शुरू हो चुकी है। दिल्ली की तीन सीटों में से एक पर संजय सिंह का नाम तय हो चुका है। आम आदमी पार्टी के दो अन्य उम्मीदवारों के नाम सामने नहीं आए हैं।
संजय सिंह को पिछले साल 4 अक्टूबर को कथित शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय (ई़डी) ने गिरफ्तार किया था। 8 दिन तक ईडी कस्टडी में रहने के बाद उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था। तब से वह तिहाड़ में ही हैं। जमानत के लिए उन्होंने अब दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। इससे पहले ट्रायल कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी थी।