गगनयान मिशन से एक बड़ी खुशखबरी, भारतीय वायुसेना के ये वीर करेंगे अंतरिक्ष की यात्रा

बेंगलूरु। गगनयान मिशन का इंतजार कर रहे भारत को मंगलावर को बड़ी खुशखबरी मिली है। केरल के तिरुवनंतपुरम में विक्रम साराभाई स्पेस सेंटर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश से चुने गए चार एस्ट्रोनॉट्स से रूबरू कराया। भारतीय वायुसेना के इन वीरों को अंतरिक्ष में जाने के लिए चुना गया है। खास बात है कि कई उम्मीदवारों की जांच के बाद अंतिम चार उम्मीदवारों की सूची तैयार की गई थी।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज केरल के तिरुवनंतपुरम में पहुंचे हुए हैं। इस दौरान उन्होंने में विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (VSSC) का दौरा किया। मौके पर मुख्यमंत्री पिनराई विजयन, राज्य मंत्री मुरलीधरन और इसरो के अध्यक्ष एस सोमनाथ भी मौजूद रहे।

बता दें, पीएम मोदी यहां स्पेस सेक्टर को बढ़ावा देने वाली तीन महत्वपूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। ये प्रोजेक्ट्स सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र श्रीहरिकोटा में PSLV एकीकरण सुविधा, महेंद्रगिरि के इसरो प्रोपल्शन कॉम्प्लेक्स में नई ‘सेमी-क्रायोजेनिक्स इंटीग्रेटेड इंजन और स्टेज टेस्ट सुविधा और VSSC तिरुवनंतपुरम में ‘ट्राइसोनिक विंड टनल’ हैं। इन्हें तैयार करने में करीब 1800 करोड़ रुपये लागत आई है।

पीएम मोदी ने मंच पर इन एस्ट्रोनॉट्स को बुलाया और दुनिया से परिचित कराया। गगनयान के जरिए अंतिरक्ष में जाने की तैयारी कर रहे यात्रियों के नाम ग्रुप कैप्टन प्रशांत बालकृष्ण नायर, ग्रुप कैप्टन अजित कृष्णन, ग्रुप कैप्टन अंगद प्रताप और विंग कमांडर शुभांषु शुक्ला है। कहा जा रहा है कि वायुसेना के ये बहादुर हर तरह के फाइटर जेट्स के बारे में जानते हैं।
पीएम मोदी वीएसएससी में एक ‘ट्राइसोनिक विंड टनल’, तमिलनाडु के महेंद्रगिरि में इसरो प्रणोदन परिसर (इसरो प्रोपल्शन कॉम्प्लेक्स) में सेमी-क्रायोजेनिक इंटीग्रेटेड इंजन संबंधी इकाई और सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसएचएआर) श्रीहरिकोटा में पीएसएलवी एकीकरण इकाई का उद्घाटन करेंगे। वीएसएससी इसरो का प्रमुख केंद्र है जो प्रक्षेपण वाहन प्रौद्योगिकी (लॉन्च व्हीकल टेक्नोलॉजी) के डिजाइन और विकास के लिए अहम इकाई है।

इसरो के अनुसार, ‘ट्राइसोनिक विंड टनल’ के जरिए रॉकेट और विमानों के मॉडलों पर वायुगतिकीय विशेषताओं का मूल्यांकन और डिजाइन विकसित करने के लिए नियंत्रित वायु प्रवाह किया जाता है। महेंद्रगिरि में ‘सेमी-क्रायोजेनिक इंटीग्रेटेड इंजन स्टेज टेस्ट’ इकाई विश्वस्तरीय अत्याधुनिक केंद्र है जो प्रणोदक के बड़े प्रवाह का प्रबंधन करता है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सूत्रों के मुताबिक, आधिकारिक कार्यक्रमों के बाद मोदी भाजपा की राज्य इकाई द्वारा आयोजित पदयात्रा के समापन समारोह में भी हिस्सा लेंगे।