पीएम नरेंद्र मोदी ने लोगों से की अपील, बोले- जिन्हें निमंत्रण मिला केवल वही अयोध्या आएं

नई दिल्‍ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर यानी शनिवार को अयोध्या दौरे पर पहुंचे। यहां उन्होंने महर्षि वाल्मिकी हवाई अड्डे, नई ट्रेनों तथा रेलवे स्टेशनों समेत कई अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने लोगों से एक अपील की। पीएम मोदी ने अपील करते हुए कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या न आएं। उन्होंने कहा कि आपने 550 साल से अधिक समय तक इंतजार किया है। कुछ समय और इंतजार करें। हर किसी की इच्छा है कि 22 जनवरी के आयोजन का हिस्सा बने और स्वंय वो अयोध्या आएं। लेकिन 22 जनवरी को हर किसी के लिए अयोध्या आना संभव नहीं है। इसलिए रामभक्तों से मेरा आग्रह है कि 22 जनवरी को एक बार रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हो जाने के बाद तय कार्यक्रम के तहत अयोध्या आएं।

22 जनवरी को अयोध्या न आएं

दरअसल 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने वाली है। ऐसे में तय लोगों को ही अयोध्या में प्रवेश दी जाएगी। देशभर की कई हस्तियां अयोध्या में मौजूद रहेंगी। इसके लिए लोगों को निमंत्रण भी भेजा जा रहा है। पीएम मोदी ने आग्रह किया कि अपनी सुविधा के अनुसार वे अयोध्या आएं और 22 जनवरी को अयोध्या आने का मन न बनाएं। उन्होंने कहा कि सालों से इस भव्य आयोजन की तैयारियां चल रही हैं। इसमें कोई बाधा नहीं आनी चाहिए। यहां भीड़ मत लगाइएगा। मंदिर यहीं है और मंदिर कहीं नहीं जा रहा है। यह सदियों तक यही रहेगा।

पीएम मोदी ने की अपील

उन्होंने कहा कि समारोह में शामिल होने के लिए कुछ लोगों को आमंत्रित किया गया है। इसलिए जिन्हें निमंत्रण नहीं मिला है, वो अयोध्या आने से बचें और केवल वही लोग अयोध्या आएं जिन्हें निमंत्रण दिया गया है। 23 तारीख के बाद यात्रा करना आसान हो जाएगा। पीएम मोदी ने लोगों से अपील की कि राममंदिर के प्राण प्रतिष्ठा के मौके पर अपने घरों में श्रीराम ज्योति जलाएं। उन्होंने कहा कि ये ऐतिहासिक क्षण भाग्य से हम सभी के जीवन में आया है। इस मौके पर सभी 140 करोड़ देशवासी 22 जनवरी को अपने घरों में श्रीराम ज्योति जलाएं और दीपावली मनाएं।