मैक्सिको में अपराधियों में टकराव, 12 लोगों को मौत के घाट उतारा

मैक्सिको सिटी। मैक्सिको के दक्षिणी राज्य ग्युरेरो में प्रतिद्वंद्वी आपराधिक गिरोहों के बीच भयावह टकराव में 12 लोग मारे गए। राष्ट्रपति एंड्रेस मैनुअल लोपेज ओब्रेडोर ने संवाददाता सम्मेलन में इसकी पुष्टि की। ओब्रेडोर ने मैक्सिको सिटी के नेशनल पैलेस में नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा, घटना की जांच मंगलवार को शुरू हो चुकी है। नेशनल गार्ड के सैनिक घटनास्थल पर हैं। इस बर्बर झड़प का विवरण बाद में प्रदान किया जाएगा।

मैक्सिको के अधिकारियों का कहना है कि इस घटना का मंगलवार को सामने आया वीडियो दिल दहला देने वाला है। इसमें बंदूकधारी अपने दुश्मनों को गोली और लातें मारने के साथ जलाते हुए दिखाई दे रहे हैं। उल्लेखनीय है कि इस देश में सिर काटने और फांसी देने के वीडियो पहले भी सोशल मीडिया पर सामने आ चुके हैं। ताजा वीडियो में जंगली पहाड़ी पर आगबबूला बंदूकधारी अपने दुश्मनों पर चिल्ला रहे हैं। उन्हें गाली दे रहे हैं। वह कुछ प्रतिद्वंद्वियों के गोलियों से छलनी शवों के ऊपर खड़े नजर आ रहे हैं। वह लाशों पर पैर पटकते हैं। कुछ को निर्वस्त्र कर देते हैं। इसके बाद उन्हें पास में बनी एक बनी हुई चिता में खींचकर आग लगा देते हैं।

प्रशांत तट के गुएरेरो राज्य के अभियोजकों ने मंगलवार देररात कहा कि वे टोटोलापन की पहाड़ी बस्ती में अपराधस्थल पर पहुंचे। उन्हें पांच जले हुए शव मिले। राष्ट्रपति आंद्रेस मैनुअल लोपेज ओब्रेडोर ने बुधवार को कहा कि अब तक कुल एक दर्जन शव मिले हैं। हालांकि, वीडियो में कम से कम 15 शव नजर आ रहे हैं। अभियोजकों का कहना है कि टकराव में शामिल गिरोहों की पहचान नहीं हो सकी है। लेकिन स्थानीय एक पत्रकार ने कहा कि जान गंवाने वाले ड्रग माफिया फैमिलिया मिचोआकाना कार्टेल से संबंधित हो सकते हैं।