गाजा पट्टी में 48 घंटे के भीतर लागू होगा सीजफायर, हमास ने इजराइल के सामने रखी शर्तें, मानेंगे PM नेतन्याहू?

हमास के 1700 ठिकाने तबाह, 704 की मौत... गाजा पट्टी पर 72 घंटे से तीन ओर से  इजरायली एक्शन जारी, जानिए कितनी तबाही - Israeli action continues on hamas  Gaza see how

नई दिल्‍ली । गाजा में 7 अक्टूबर से शुरू हुआ युद्ध अब थम सकता है। हमास ने कहा है कि उनकी इजराइल से बातचीत चल रही है। आने वाले 24 से 48 घंटों के भीतर सीजफायर हो सकता है। हमास के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को कहा है कि इजराइल को हमास की कुछ मांगों को स्वीकार करना होगा।

समाचार एजेंसी एएफपी से बात करते हुए हमास के अधिकारी ने कहा, ‘अगर इजराइल उत्तरी गाजा में विस्थापित फिलिस्तीनियों की वापसी कराने पर समहत होता है और मानवीय सहायता के लिए मान जाता है तो युद्धविराम पर सुनिश्चित किया जा सकता है।

अब तक मरने वालों की संख्‍या 30,410 और 71,700 घायल हुए

इस बीच गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को कहा कि पिछले 24 घंटों में “नौ नरसंहारों” में 90 फिलिस्तीनी मारे गए हैं, जबकि 117 अन्य घायल हुए हैं। पांच महीने पहले इजराइल-हमास जंग के शुरू होने के बाद से मरने वालों की संख्या 30,410 हो गई है, जबकि लगभग 71,700 घायल हुए हैं।

इस बीच संयुक्त राष्ट्र की फिलिस्तीनी शरणार्थी एजेंसी (UNRWA) का कहना है कि गाजा में किसी भी संघर्ष की तुलना में सहायता कर्मियों और पत्रकारों की मृत्यु की संख्या सबसे अधिक दर्ज की गई है।

फिलिस्तीनी लोगों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया

गाजा युद्ध के खतरनाक मोड़ पर पहुंचने के बाद अब अमेरिका ने फिलिस्तीनी लोगों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया है। पहली बार अमेरिका ने गाजा में मदद पहुंचानी शुरू की है। अमेरिकी सेना के एयरक्राफ्ट ने शनिवार को पैराशूट से फिलिस्तीनियों के लिए खाने के बक्से गिराए।

गाजा में राहत सामग्री पहुंचाने के पॉइंट बनाए गए

गाजा में राहत सामग्री पहुंचाने के पॉइंट बनाए गए हैं। अमेरिका ने 66 बक्सों में 38 हजार रेडी-टू-इट मील्स गिराईं। अमेरिका का कहना है कि ये बस शुरुआत है, वो आगे भी गाजा में रह रहे फिलिस्तीनियों की मदद करता रहेगा। ये एक जॉइंट ऑपरेशन था। UN के मुताबिक, गाजा की 22 लाख से ज्यादा आबादी भुखमरी का कगार पर है।