बाकी सब चंगा सी… तकरार के बीच हंसते-ख‍िलख‍िलाते पीएम मोदी और सीजेआई की यह तस्‍वीर क्‍या कहती है?

0
186

नई दिल्‍ली।एजेंसी
संविधान दिवस पर सुप्रीम कोर्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भारत के चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की यह तस्‍वीर पूरी नहीं है। इसके पीछे कई चीजें छुपी हुई हैं। कानून मंत्री किरेन रिजीजू के बयान से इसे समझा जा सकता है। संविधान दिवस की पूर्व संध्‍या पर उन्‍होंने कहा था कि कार्यपालिका और न्‍यायपालिका भाइयों की तरह हैं। आपस में लड़ना-झगड़ना ठीक नहीं है। कॉलेजियम सिस्‍टम की आलोचना के बीच रिजीजू ने यह बात कही थी। इसके उलट सीजेआई चंद्रचूड़ बोले थे कि लोकतंत्र में कोई भी संस्‍था परफेक्‍ट नहीं है। इसका समाधान मौजूदा व्यवस्था के भीतर काम करना है। यह तस्‍वीर भले ‘ऑल इज वेल’ को दिखा रही है। लेक‍िन, सब ‘चंगा सी’ नहीं है। हाल में जजों की नियुक्ति के लिए कॉलेजियम सिस्‍टम को लेकर कार्यपाल‍िका और न्‍यायपाल‍िका में टकराव बढ़ा है। कानून मंत्री इसके पारदर्शी नहीं होने की बात चुके हैं। उन्‍होंने ‘टाइम्‍स नाउ समिट 2022’ में न्‍यायपालिका में नियुक्तियों को लेकर ट्रांसपेरेंसी की मांग की थी। रिजीजू ने दो-टूक शब्‍दों में यह भी कह दिया था कि सरकार जजों की नियुक्ति के लिए कॉलेजियम सिस्‍टम का सम्‍मान करती है। लेकिन, यह उम्‍मीद करना सही नहीं है कि सरकार बिना सोच-समझे कॉलेजियम की सिफारिश पर हस्‍ताक्षर कर देगी। इसे कार्यपालिका और न्‍यायपालिका के बीच तकरार के तौर पर देखा जा रहा है।
बहरहाल, शनिवार को इस टकराव के बीच कुछ बेहद सुखद तस्‍वीरें दिखाई दीं। इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीजेआई हंसते-खिलखिलाते हुए दिखे। सुप्रीम कोर्ट में संविधान दिवस के उपलक्ष में आयोजित कार्यक्रम में पीएम हिस्‍सा लेने पहुंचे थे। इस दौरान सभी चीजें पटरी पर दिखीं। कोई ऐसी बात नहीं हुई जो खटास पैदा करती हो।
इस बार क्यों है खास ….पीएम ने बताया
पीएम मोदी ने इस दिन के महत्‍व के बारे में बताते हुए कहा 1949 में यही दिन था जब स्वतंत्र भारत ने अपने लिए एक नए भविष्य की नींव डाली थी। इस बार का संविधान दिवस इसलिए भी विशेष है क्योंकि भारत ने अपने आजादी के 75 वर्ष पूरे किए हैं। पीएम ने संविधान देने वाले महान लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की। साथ ही राष्ट्र के लिए उनके दृष्टिकोण को पूरा करने की प्रतिबद्धता दोहराई। इस दौरान ई-कोर्ट परियोजना के तहत तमाम नई पहलों और वेबसाइट का उद्घाटन किया। उन्‍होंने 26/11 मुंबई आतंकी हमले का भी जिक्र किया।

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY