द ग्रेट ग्वालियर पॉलिटिक्स…. भाजपा के लिए गले की हड्डी बनी प्रेसवार्ता ;पहले अनूप रूठे फिर पत्रकारों का बवाल

0
237

>> मंच पर जगह नहीं मिलने से नाराज हुए पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा, सोशल मीडिया पर ब्राह्मण समाज ने चुनाव बहिष्कार की दी चेतावनी
>> बीजेपी द्वारा बुलाई गई प्रेसवार्ता में वरिष्ठ नेता अनूप मिश्रा की नाराजी और पत्रकारों द्वारा प्रेसवार्ता के बहिष्कार का मामला  गर्माया
>> पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा को मनाने घर पहुँची सुमन शर्मा
ग्वालियर । अजयभारत न्यूज
निकाय चुनाव में बीजेपी की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. पहले टिकट वितरण के दौरान अलग-अलग समाजों को टिकट नहीं मिला, तो उन्होंने बीजेपी का बहिष्कार कर दिया और चुनाव हराने की बात कही।  उसके बाद आज भारतीय जनता पार्टी के वचन पत्र जारी होने के दौरान स्वर्गीय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी के भांजे और बीजेपी के कद्दावर नेता पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा के अपमान के बाद उनके समर्थक भड़क गए हैं।  सोशल मीडिया पर अनूप मिश्रा के समर्थकों की तरफ से सम्पूर्ण ब्राह्मण समाज द्वारा चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दी गई है।
भाजपा द्वारा नगरनिगम चुनाव हेतु जारी अपने संकल्प पत्र हेतु शनिवार को एक होटल में पत्रकार वार्ता आमंत्रित की गई थी । सजे हुए मंच पर पार्टी से जुड़े तमाम नेताओं को तो जगह दी गई लेकिन पार्टी के कद्दावर नेता प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा को मंच  नहीं दिया गया जब पार्टी अध्यक्ष कमल माखीजानी को इसका अहसास हुआ अनूप मिश्रा को मंच से ही आमंत्रित किया जाने लगा,यह देख श्री मिश्रा ने मंच पर आने से इंकार कर दिया उन्होंने यहां तक कह दिया कि ज्यादा करोगे तो मैं यहां से भी उठकर चला जाऊंगा।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में अनूप मिश्रा को लेकर माहौल अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि आयोजकों की एक और गलती के कारण पत्रकार उखड़ गए हुआ यूं कि पत्रकारों को जो प्रेस नोट दिया गया उसकी शब्दावली मंच से पढ़े जा रहे प्रेसनोट से अलग थी जिसका की पत्रकारों ने यह कहकर विरोध कर दिया की उन्हें अलग प्रेसनोट क्यों दिया गया जैसे तैसे माहौल थोड़ा ठंडा हुआ तो  महापौर पद की प्रत्याशी सुमन शर्मा पत्रकारों से चर्चा किये बिना ही पत्रकार वार्ता से चली गईं इसपर पत्रकार पुनः उखड़ गए उनका कहना था कि जब चर्चा ही नहीं करना थी तो बुलाया ही क्यों ,यह कहते हुए पत्रकरजन बिना खाना खाए ही वहां से चले गए हालांकि वहां मौजूद पार्टी नेताओं ने उन्हें मनाने की कोशिश की परन्तु भड़के हुए पत्रकारों ने उनकी एक नहीं सुनी।
पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा को नहीं मिली मंच पर जगह
ग्वालियर में नगरीय निकाय चुनाव में सियासी माहौल गरमाया हुआ है. पार्टियों की अंदरूनी कलह भी सामने आ रही है, इसका ताजा उदाहरण आज भाजपा के वचन पत्र जारी किये जाने के दौरान देखने को मिला. एक निजी होटल में भाजपा जिला कमेटी द्वारा वचन पत्र जारी किया गया. कार्यक्रम में शहर के बड़े नेताओं को भी आमंत्रित किया गया था, पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा भी आमंत्रित अतिथियों में शामिल थे. लेकिन जिला कमेटी ने मंच पर उन्हें कुर्सी नहीं दी. मंच पर महापौर प्रत्याशी सुमन शर्मा, ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, पूर्व मंत्री माया सिंह, पूर्व महापौर समीक्षा गुप्ता, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, पूर्व विधायक मदन कुशवाह, जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी मौजूद थे.
अनूप मिश्रा को मनाने में जुटे बीजेपी के नेता
मंच संचालक ने अनूप मिश्रा का नाम तो लिया, लेकिन कुर्सियां पहले से ही भरी होने के कारण वे मंच पर नहीं गए और मंच के सामने पड़े सोफे पर पत्रकारों और अन्य नेताओं के साथ बैठ गए. कुछ देर तो अनूप मिश्रा वहां बैठे रहे, लेकिन फिर अपने इस अपमान के चलते वहां से निकल आये. अनूप मिश्रा के अपमान से उनके समर्थकों में आक्रोश बढ़ गया और उन्होंने सोशल मीडिया पर ब्राह्मण समाज के चुनावों के बहिष्कार की चेतावनी भरे पोस्ट लिखकर डाल दिए. अनूप मिश्रा समर्थकों ने जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी के खिलाफ भी आक्रोश जताया. ब्राह्मण समाज द्वारा बहिष्कार की चेतावनी से भाजपा में हड़कंप मच गया. खबर है कि महापौर प्रत्याशी सुमन शर्मा और अन्य वरिष्ठ भाजपा नेता अनूप मिश्रा को मनाने की कोशिश में लग गए हैं.
——————– संकल्प पत्र जारी , गिनाई उपलब्धियां ——————————————-
भारतीय जनता पार्टी ने आज ग्वालियर में जिला स्तर पर अपना संकल्प जारी  किया। भाजपा ने इसमें अपनी उपलब्धियां गिनाईं। भाजपा ने कहा कि हमने पिछले अपने कार्यकाल में ग्वालियर को व्यवस्थित और सुविधायुक्त बनाया है और आगे इसमें और वृद्धि करेंगे।भारतीय जनता पार्ट ने आज एक निजी होटल में अपना वचन पत्र जारी किया। वचन पत्र में पार्टी ने अपनी सरकार की उपलब्धियों की जानकारी दी हैं।  पार्टी ने ग्वालियर नगर निगम में अपने 57 साल की नगर सरकार की उपलब्धियों को भी बताया है।वचन पत्र में रोप वे जैसी पुरानी योजना से हटाने के सवाल पर सांसद विवेक शेजवलकर ने कहा कि योजना का काम जारी है। मेरी जानकारी के मुताबिक रोप वे के लिए पिछले चयनित स्थानों को लेकर कुछ आपत्तियां थीं इसलिए नए स्थान का चयन किया गया है, जल्दी ही वहां काम शुरू होगा।
अटल स्मारक बनाने की घोषणा
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर अटल स्मारक बनाने की घोषणा के बावजूद उसकी शुरुआत नहीं होने के सवाल पर सांसद शेजवलकर ने कहा कि दो तीन स्थानों का चयन किया गया है जल्दी ही एक स्थान को अंतिम रूप देकर अटल स्मारक बनेगा।
सांसद शेजवलकर ने कहा
ग्वालियर में भाजपा की नगर निगम  पिछले 57 सालों में कुछ नहीं होने के सवाल का जवाब देते हुए सांसद शेजवलकर ने पानी के उदाहरण देते हुए कहा कि 2004 में  ग्वालियर में 140 मिलियन लीटर पानी प्रोसेस होता था जो बढ़कर आज 340 हो  इसीतरह सड़कों का जाल बिछा है सीवर लाइन बढ़ी है।सम्पत्तिकरण का सरलीकरण कैसे करेंगे? इस सवाल का जवाब देते हुए सांसद विवेक शेजवलकर ने कहा कि संपत्ति कर का निर्धारण नगर निगम और प्रदेश सरकार करती है , हम प्रयास करेंगे कि इसकी एक तय व्यवस्था हो एक नीति बने उस हिसाब से सम्पत्तिकर का निर्धारण हो।

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY