दुष्कर्मियों को ऐसी सजा मिले कि कोई भी ऐसा अपराध करने से पहले 100 बार सोचे: डॉ. रुचि गुप्ता

0
4

नहीं रुक रहे बाल अपराध, एसपी से मिलीं महिला कांग्रेस अध्यक्ष, ज्ञापन सौंपा
ग्वालियर । अजयभारत न्यूज
मध्यप्रदेश सहित ग्वालियर चंबल संभाग में बाल आपराधों का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। एक तरफ मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म के साथ छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ रही हैं। तो दूसरी तरफ महिलाएं अत्याचार सहते-सहते अपनी जीवनलीला समाप्त कर रही हैं। ग्वालियर महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष डॉ. रुचि गुप्ता ने महिलाओं और मासूम बालिकाओं की सुरक्षा की खातिर पुलिस अधीक्षक से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपा है और मांग की है कि ऐसे अपराधियों को कठोर दण्ड दिया जाए।
महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष डॉ. रुचि गुप्ता ने शिवराज सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा है कि एक तरफ प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह मध्यप्रदेश की भोली भाली जनता को स्वर्णिम प्रदेश बनाने का सपना दिखाकर बरगला रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में बढ़ते अपराध खासकर महिला एवं मासूम बालिकाओं के साथ हो रहे जघन्य अपराधों को लेकर उनकी बोलती बंद है। डॉ. गुप्ता ने बताया कि हाल ही में ग्वालियर में एक 58 वर्षीय बुजुर्ग ने तीन मासूम बच्चियों को चॉकलेट का लालच देकर घर के अंदर बुलाकर उनके साथ अश्लील हरकत की। इस तरह की एक नहीं अनगिनत घटनाएं मध्यप्रदेश में घट रही हैं। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ने भी बाल अपराधों के मामलों में मप्र को नंबर वन घोषित किया है। महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. गुप्ता ने पुलिस अधीक्षक को दिए ज्ञापन में मांग की है कि महिलाओं और बच्चियों पर अत्याचार करने वाले अपराधियों (नरपिशाचों) को ऐसी सजा दी जाए कि वह और अन्य अपराधी ऐसा अपराध करने से पहले 100 बार सोचें। ज्ञापन देेने वालों में मुख्य रूप से उपाध्यक्ष रचना कुशवाह, प्रदेश सचिव निधी शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष रानु शर्मा, उपाध्यक्ष मनोरमा चौहान, महामंत्री वर्षा कुशवाह एवं अन्य महिलायें उपस्थित रहीं।

LEAVE A REPLY