राजमाता विजयाराजे सिंधिया की जयंती पर दिग्गजों ने किया याद

0
2

-केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने सपरिवार अम्मा महाराज की छत्री पर पहुँचकर पुष्पांजलि व श्रद्धांजलि अर्पित की
-प्रदेश सरकार के मंत्रिगण सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधिगण पहुँचे श्रद्धांजलि अर्पित करने
ग्वालियर ।अजयभारत न्यूज
राजमाता स्व. विजयाराजे सिंधिया की 102वीं जयंती पर ग्वालियर-चंबल संभाग के निवासियों ने उन्हें श्रद्धा भाव के साथ याद किया। यहाँ कटोराताल स्थित अम्मा महाराज की छत्री पर स्व. राजमाता को पुष्पांजलि एवं श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिये कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस अवसर पर संगीतमय भजन कीर्तन से भी स्व. राजमाता को स्वरांजलि दी गई।
केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी माताश्री श्रीमती माधवीराजे सिंधिया, धर्मपत्नी श्रीमती प्रियदर्शनी राजे सिंधिया व सुपुत्र महाआर्यमन के साथ अम्मा मजाराज की छत्री पर पहुँचे और पुष्पांजलि अर्पित कर अपनी दादी राजमाता स्व. विजयाराजे सिंधिया को नमन किया।
प्रदेश सरकार के मंत्रिगण सर्वश्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, तुलसीराम सिलावट, डॉ. प्रभुराम चौधरी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, बृजेन्द्र यादव, सुरेश राठखेड़ा व ओपीएस भदौरिया, सांसद विवेक नारायण शेजवलकर व श्रीमती संध्या राय, पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा, श्रीमती माया सिंह, रूस्तम सिंह, लालसिंह आर्य व श्रीमती इमरती देवी, पूर्व मंत्री गिर्राज डंडौतिया ,मनोज पाल सिंह यादव सहित ग्वालियर-चंबल संभाग के वर्तमान व पूर्व विधायकगण, भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी व कौशल शर्मा सहित संभाग भर से आए अन्य वरिष्ठ जनप्रतिनिधिगण व गणमान्य नागरिक राजमाता को पुष्पांजलि अर्पित करने पहुँचे थे।
अम्मा महाराज की छत्री पर आयोजित हुए कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने धर्मगुरूओं का सम्मान किया भजन-कीर्तन की संगीतमय प्रस्तुति देने वाले कलाकरों को भी सम्मानित किया। उन्होंने श्रद्धांजलि कार्यक्रम में मौजूद जनप्रतिनिधियों एवं गणमान्य नागरिकों से भी भेंट की। राजमाता स्व. विजयाराजे सिंधिया ने राजपथ से लोकपथ का मार्ग दिखाया। वे हर प्रकार के संकट के समय ग्वालियर-चंबल क्षेत्र के लोगों के बीच पहुँचकर दीन-दुखियों की संबल बनती रहीं। इसीलिए स्व. राजमाता विजयाराजे सिंधिया आज भी जन-जन के हृदय में बसी हैं। स्व. राजमाता की 102वीं जयंती पर पूरा ग्वालियर शहर अम्मा महाराज की छत्री पर श्रद्धांजलि देने के लिये उमड़ पड़ा।
————————————————-
पूर्व मंत्री गिर्राज डंडोतिया ने सरलता, सादगी एवं त्याग की प्रतिमूर्ति परम् श्रद्धेया राजमाता विजयाराजे सिंधिया की जयंती के अवसर पर ग्वालियर स्थित छत्री पर केंद्रीय मंत्री श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ अम्मा महाराज के चरणकमलों में सादर पुष्पांजलि अर्पित की।
——————————————————————
त्याग एवं समर्पण संगठन विचारक की प्रतिमूर्ति थी राजमाता: नाथू सिंह
भिण्ड | भाजपा जिला अध्यक्ष नाथू सिंह गुर्जर ने कहा श्रीमंत कैलाश वासी राजमाता विजयाराजे सिंधिया ने भारतीय जनसंघ के संस्थापक सदस्य राजपथ से लोकपथ के मार्ग पर चलने वाली संगठन की विचारक के रूप में इन्होंने अपने त्याग और समर्पण से भारतीय जनता पार्टी के संगठन को पूरे देश में वटवृक्ष की तरह खड़ा करने का कार्य किया जिनकी जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि प्रणाम करता हूं | यह बात उन्होंने गवालियर स्थित छतरी पर पहुंचकर राजमाता को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए कहीं |
भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाल सिंह आर्य, प्रदेश उपाध्यक्ष सांसद श्रीमती संध्या राय, जिला अध्यक्ष नाथू सिंह गुर्जर ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ ग्वालियर के छतरी पहुंचकर श्रीमंत राजमाता विजयराजे सिंधिया को श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

LEAVE A REPLY