शल्य प्रसव से पीड़ित महिलाओं ने जलाया केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री का पुतला;कई पत्रकार सम्मानित

0
6

ग्वालियर । अजयभारत न्यूज
संकट मोचन हनुमान बालाजी मंदिर गोल पाड़ा पर हुई पत्रकार वार्ता में जानकारी देते हुए जगबीर दास ने बताया कि धर्म को आम समस्या से दूर नहीं किया जा सकता इसीलिए मंदिर के सेवकों के द्वारा समय-समय पर जनहित के मुद्दे उठाए जाते रहे हैं उसी में एक मुद्दा जनवरी 2021 से लगातार उठाया जा रहा है ।
सेवक जगबीर दास का कहना है हम और आप संसद में बैठे 99% सांसद सामान्य प्रसव से पैदा हुए हैं प्रकृति के हर जीव के प्रसव सामान्य हो रहे हैं लेकिन इंसानी महिलाओं के पेट फाड़कर प्रसव कराए जा रहे हैं।उन्हें शारीरिक रूप से कमजोर किया जा रहा है उन्हें दो और तीन बच्चों तक सीमित कर अघोषित परिवार नियोजन किया जा रहा है ।
जबकि सरकार ने निरर्थक रूप से परिवार नियोजन की कई योजनाएं चला रखी हैं उन पर खर्च कर रही है जब पेट फाड़कर बच्चे ही पैदा हो रहे हैं तो ऐसी योजना की क्या जरूरत है इसी का विरोध करने के लिए और प्राकृतिक प्रसव सुनिश्चित कराने के लिए सेवकों के द्वारा आंदोलन चलाया जा रहा है उसके तहत केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री मुख्यमंत्री केंद्रीय कृषि मंत्री शहर के जनप्रतिनिधि एवं सभी 543 सांसदों को ज्ञापन दिए गए लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। तब निर्णय लिया कि प्रतिदिन एक सांसद का पुतला मंदिर के गेट पर जलाया जाएगा।
इसी कड़ी में 19 जून से आज तक 99 सांसदों के पुतले जलाए जा चुके हैं आज यहां शल्य प्रसव से पीड़ित महिलाएं केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मांडवीया का रावण के स्वरूप में पुतला दहन कर रही हैं।आगे जब तक इस प्रकरण का कोई ठोस समाधान नहीं निकलता है तब तक प्रत्येक मंगलवार को रात्रि 7:30 बजे एक केंद्रीय मंत्री का पुतला फूंका जाता रहेगा।
प्रतिदिन यज्ञ हवन किया जा रहा है
मंदिर में तीसरे लॉकडाउन 4 मई 2020 से लगातार प्रतिदिन यज्ञ हवन किया जा रहा है यह हवन कोरोना महामारी के प्रभाव को कम करने के लिए एवं अयोध्या में मंदिर निर्माण का शिलान्यास नहीं हो रहा था जिसके लिए प्रारंभ किया गया था। आज शिलान्यास भी हो चुका है मंदिर निर्माण कार्य भी चल रहा है उसमें कोई विघ्न बाधा ना आए इसके लिए यह हवन निरंतर जारी है इसकी पूर्णाहुति जिस दिन अयोध्या में राम मंदिर बन कर तैयार हो जाएगा और रामलला अपने स्थान पर विराजमान होंगे उस दिन की जावेगी हवन में शहर के धर्म प्रेमी लोग आकर भाग ले रहे हैं यज्ञ में भाग लेना पूर्णतया निशुल्क है। आज के मौजूद सेवकों में मुख्य रूप से केके अग्रवाल, किशन सिंह तोमर ,दीपक श्रीवास्तव,आदि उपस्थित रहे।
इन पत्रकारों का हुआ सम्मान
रवि शेखर,रामकिशन कटारे, अनिल श्रीवास्तव, अनिल शर्मा, विजय सिंह , ,शशिकांत श्रीवास्तव, ,सौरभ सक्सेना, ,साबिर खान, चंद्रकांत त्रिपाठी, ,राजेंद्र झा,वीरेंद्र कुलश्रेष्ठ,महेश तायल, विवेक श्रीवास्तव,हेम सिंह, संजय प्रजापति,अभिषेक बरौनिया, सोमेश शर्मा, अतुल राठौर।

LEAVE A REPLY