इंदौर-दाहोद रेलवे लाइन को लेकर छलका ‘ताई’ का दर्द।।

0
0

टुकड़ों-टुकड़ों में ही सही लेकिन पूरा हो काम
इंदौर। अजयभारत न्यूज
कई सालों से अटके दाहोद-इंदौर रेलवे ट्रैक को लेकर एक बार फिर इंदौर के लोगों की उम्मीद जागी है।पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सांसद शंकर लालवानी के साथ इस प्रोजेक्ट का निरीक्षण करने की बात कही है। बताया जा रहा है कि फंड की कमी के चलते यह प्रोजेक्ट कई सालों से अटका हुआ है। अब टुकड़ों-टुकड़ों में असका काम पूरा किया जा रहा है।
इंदौर से दाहोद रेल लाइन प्रोजेक्ट सुमित्रा महाजन ने सांसद रहते हुए मंजूर करवाया था। कई साल बीत जाने के बाद भी यह प्रोजेक्ट पूरा नहीं हो पाया। मीडिया से चर्चा करते हुए पूर्व लोकसभा स्पीकर काफी मायूस भी नजर आई। सुमित्रा महाजन ने किया कि अगर सरकार के पास पैसा नहीं है, तो टुकड़ों-टुकड़ों में प्रोजेक्ट का काम करें। कई सालों से प्रोजेक्ट का काम अटका हुआ है।सुमित्रा महाजन ने कहा कि पहले प्रोजेक्ट देवास और मक्सी होकर जाना था। इस दौरान हमने पहले फेज में देवास और मक्सी का काम करवाया था। आज देवास और मक्सी लाइन पर ट्रेनें चल रही है। इसके बाद कई कारणों से यह प्रोजेक्ट अटकता रहा। अब हम कोशिश कर रहे हैं कि टुकड़ों-टुकड़ों में ही सही लेकिन यह प्रोजेक्ट पूरा तो हो।अहिल्याबाई होलकर पर आधारित स्मारक की परिकल्पना के बारे में बोलते हुए सुमित्रा महाजन ने कहा कि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इसकी स्वीकृति दी है। इसके लिए अब जमीन की तलाश की जा रही है। जल्द इंदौर में देवी अहिल्या का भव्य स्मारक बनकर तैयार होगा।

LEAVE A REPLY