कोहली ने ठोके आतिशी 160 रन, टीम इंडिया ने अफ्रीका को दिया 304 का लक्ष्य

0
10

केपटाउन :टीम इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच छह मैचों की वनडे सीरीज का तीसरा मुकाबला केपटाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम में खेला जा रहा है. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने 50 ओवर में 6 विकेट गंवा कर 303 रन बनाए और साउथ अफ्रीका के सामने रनों 304 का टारगेट रखा. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने 160 रनों की आतिशी पारी खेली. यह उनके वनडे करियर की दूसरी बेस्ट पारी है.
टीम इंडिया के विकेट्स
1. रोहित शर्मा – 0 रन पर पहला विकेट (0.6 ओवर) – बो. कैगिसो रबाडा, कैच हेइनरिक क्लासेन.
2. शिखर धवन – 140 रन पर दूसरा विकेट (23.1 ओवर) – बो. जेपी डुमिनी, कैच एडेन मार्करम.
3. अजिंक्य रहाणे – 160 रन पर तीसरा विकेट (27.4 ओवर) – बो. जेपी डुमिनी, कैच फेहलुकवायो.
4. हार्दिक पंड्या – 188 रन पर चौथा विकेट (32.5 ओवर) – बो. क्रिस मॉरिस, कैच हेइनरिक क्लासेन.
5. महेंद्र सिंह धोनी – 228 रन पर पांचवां विकेट (41.3 ओवर) – बो. इमरान ताहिर, कैच लुंगी नगीदी.
6. केदार जाधव – 236 रन पर छठा विकेट (42.4 ओवर) – बो. फेहलुकवायो, कैच हेइनरिक क्लासेन.
टीम इंडिया को मिली पहले बल्लेबाजी
इससे पहले साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया और टीम इंडिया को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया. साउथ अफ्रीका ने लुंगी नगीदी और हेइनरिक क्लासेन को वनडे डेब्यू करने का मौका दिया है. वहीं मोर्ने मोर्कल को बाहर जाना पड़ा है. स्पिन गेंदबाज तबरेज शम्सी के स्थान पर आंदिले फेहुलकवायो को प्लेइंग इलेवन में जगह मिली है. भारतीय टीम में कोई बदलाव नहीं हुआ है.
D फैक्टर के बाहर होने से टूटी अफ्रीका की कमर
चोटों के कारण साउथ अफ्रीका का बल्लेबाजी क्रम एक तरह से बिखर चुका है. पहले एबी डिविलियर्स तीन वनडे मैचों के लिए बाहर हुए. हालांकि वह चौथे वनडे में वापसी करेंगे या नहीं यह कहना अभी भी मुश्किल है.उनके बाद कप्तान फाफ डु प्लेसिस अंगुली में चोट के कारण पूरी सीरीज से बाहर हो गए हैं. उनके बाद विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक भी चोट के कारण मैदान से दूर हैं.
अफ्रीकी सरजमीं पर टीम इंडिया के पास इतिहास रचने का मौका
भारतीय टीम की नजरें पहली बार अफ्रीकी सरजमीं पर किसी बाईलैटरल वनडे सीरीज में तीन मैच जीतकर इतिहास रचने पर टिकी हैं. अगर ऐसा होता है तो केपटाउन में भारत की 1992 से 5 मैचों में तीसरी जीत होगी. भारत ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ यहां तीन में से दो मैच गंवाए हैं और एक जीता है.
अफ्रीका में अपना रिकॉर्ड बदलेगा भारत
साउथ अफ्रीका में बाईलैटरल सीरीज में इससे पहले भारतीय टीम कभी दो से अधिक वनडे नहीं जीत पाई है. मेहमान टीम ने 1992-90 में सात मैचों की सीरीज 2-5 से गंवाई थी, जबकि 2010-11 में भारत 2-1 की बढ़त बनाने के बाद पांच मैचों की सीरीज 2-3 से हार गई थी. लेकिन मौजूदा टीम इंडिया के स्तर को देखते हुए उसके पास इतिहास रचने का मौका है.
प्लेइंग इलेवन :
भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह.
साउथ अफ्रीका: हाशिम अमला, एडेन मार्करम (कप्तान), जेपी डुमिनी, हेइनरिक क्लासेन (विकेटकीपर), डेविड मिलर, खाया जोंडो, क्रिस मॉरिस, कैगिसो रबाडा, लुंगी नगीदी, फेहलुकवायो , इमरान ताहिर.

LEAVE A REPLY