नाइजीरियन गैंग मामले में बड़ा खुलासा, इंदौर में भी की 20 लाख की हैकिंग

0
3

इंदौर : राज्य सायबर पुलिस के हत्थे चढ़े नाइजीरियन गैंग के सदस्यों ने पूछताछ में बड़ा खुलासा किया है. भोपाल और मंडीदीप में 42 लाख की हैकिंग के खुलासे के बाद इंदौर में भी तीन महीने पहले बीस लाख की हैकिंग की वारदात को अंजाम देने का मामला सामने आाय है. इंदौर के अलावा सायबर पुलिस के पास 10 हैकिंग के मामले भी जांच के लिए आए हैं.
जानकारी के अनुसार नाइजीरिया में बैठे गैंग के मास्टरमाइंड के निशाने पर प्रदेश के दस से ज्यादा बड़े कारोबारी और व्यापारी थे. गैंग के सरगना इंडिया में रह रहे स्थानीय नाइजीरियन और भारतीय लोगों की मदद से हैकिंग की वारदात को अंजाम दे रहे हैं. सायबर पुलिस ने गैंग के फरार चल रहे दो सदस्यों राजेंद्र सतनामी और जॉन ब्राउनी पर पांच-पांच हजार का इनाम घोषित किया है. साथ ही पुलिस की अलग-अलग टीम गैंग से जुड़े आधा दर्जन सदस्यों की तलाश कर रही है.
आपको बता दे कि मंडीदीप में कारोबारी के साथ हुई 42 लाख की हैकिंग का खुलासा करते हुए पुलिस ने आरोपी अनिल पांडे, रामसिंह उर्फ राजवीर, शिवेंद्र सिकरवार और नाइजीरियन इबेजिम पीटर चिकन्सो, डेबिड ओलुटायो फेडरिक और एवरेस्ट चिन्ढू ओपरके को गिरफ्तार किया था. साथ ही जिन बैंक खातों में हैकिंग की राशि ट्रांसफर हुई, उनमें बैंक प्रबंधन की लापरवाही भी सामने आई है. सायबर पुलिस मामले से जुड़े तमाम बिंदुओं की जांच कर रही है.

LEAVE A REPLY