आलोचकों के पास तथ्य नहीं होते: शारापोवा

0
2

नई दिल्ली : 15 माह के प्रतिबंध के बाद टेनिस कोर्ट में लौटने वाली रूस की दिग्गज टेनिस खिलाड़ी मारिया शारापोवा ने वापसी को लेकर आलोचना करने वालों को करारा जवाब दिया है. शारापोवा ने कहा कि आलोचकों के पास तथ्य नहीं होते हैं.
शारापोवा का आलोचकों को करारा जवाब
पूर्व शीर्ष विश्व वरीयता प्राप्त खिलाड़ी शारापोवा को निषिद्ध दवा के सेवन के आरोप में प्रतिबंधित कर दिया गया था. इसके बाद टेनिस में वापसी पर उनकी व्यापक स्तर पर आलोचना हुई थी. आलोचकों की इस सूची में उनकी साथी खिलाड़ी युजीनी बुकार्ड का नाम शामिल था. कनाडा की टेनिस खिलाड़ी बुकार्ड ने कहा था कि शारापोवा को टेनिस में वापसी की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए.
‘सुर्खियों में रहने के लिए लोग आलोचना करते हैं
साक्षात्कार में शारापोवा ने हालांकि, ठगी की बातों को खारिज करते हुए कहा कि वह इन आरोपों को काफी पीछे छोड़ आई हैं. बुकार्ड के बयान पर शारापोवा ने कहा, “मुझे लगता है कि इस प्रकार की टिप्पणियों का कोई तथ्य नहीं होता और इसलिए, मैं इन्हें महत्व नहीं देती. इस प्रकार की बातें सुर्खियों में हैं और आगे भी रहेंगी.
हर किसी के करियर में उतार-चढ़ाव आते हैं-शारापोवा
शारापोवा ने कहा, “अंत में यह मेरा करियर है और मैंने इसमें उतार-चढ़ाव का सामना किया है. मैं अपनी गलती को मानती हूं और मैंने इसके लिए मिले प्रतिबंध को भी झेला है और अब मैं वापस आ गई हूं.

LEAVE A REPLY