पंचनामा : बाइक स्लिप होने से हाथ-पैर टूटे, फिर भी रिश्वत लेने पहुंच गया तहसीलदार का बाबू;भागवत कथा सुनने आई व़द्धा की चेन लेकर महिला गायब

0
1

-लोकायुक्त पुलिस ने पकड़ा
ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
एक दिन पहले एक्सीडेंट में घायल होकर अस्पताल में भर्ती होने के बाद भी तहसीलदार के बाबू को लोकायुक्त ने २० हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोच लिया। लोकायुक्त ने तत्काल नोट निगरानी में लेकर भ्रष्टाचार का मामला दर्ज कर लिया है।
जानकारी के अनुसार ग्वालियर के सिरोल स्थित हुरावली सुरक्षा विहार कॉलोनी निवासी हरिसिंह राणा किसान हैं। मूल रूप से वह भिंड के मौ तहसील स्थित इटायली गांव के हैं। वहां उनकी ६ बीघा जमीन है। जिसे हरिसिंह के पिता अपने पोतों के नाम कर गए थे। हरिसिंह मौ तहसील में ३ साल से इस जमीन के नामांतरण के लिए चक्कर लगा रहे थे। इस दौरान दो तहसीलदार भी बदल गए, लेकिन मौ तहसील में पदस्थ बाबू श्रीकृष्ण बौहरे निवासी डीडी नगर उन्हें परेशान कर रहा था। वह जमीन नामांतरण के लिए ३० हजार रुपए रिश्वत मांग रहा था।
परेशान हो चुके किसान लोकायुक्त एसपी से मिले और शिकायत की। मामले की जांच टीआई लोकायुक्त कविन्द्र सिंह चौहान को दी गई। उन्होंने किसान को रिकॉर्डर देकर बातचीत करने के लिए कहा। इसमें फरियादी ने पूरी बात रिकॉर्ड की। ३० हजार रुपए से मोल भाव करते हुए २० हजार में बात तय हो गई। लेकिन मंगलवार को बाबू की गाड़ी स्लिप हो गई और वह घायल हो गया। उसके हाथ पैर व चेहरे पर चोट लगी। जिस कारण मंगलवार को उसे ट्रेप नहीं कर सके। बुधवार सुबह जब हरिसिंह ने उसे फोन लगाया तो उसने कहा घर आ जाओ फिर बोला कि मैं सिटी सेंटर जीवन ज्योति नेत्रालय आ रहा हूं वहां आ जाओ। हॉस्पिटल पहुंचकर जैसे ही किसान ने बाबू श्रीकृष्ण बौहरे को २-२ हजार के १० नोट थमाए तो वह गिनने लगा। तभी लोकायुक्त टीम ने उसका हाथ पकड़ लिया।तो बाबू कहने लगा कि साहब यह रुपए उसने अपने पहचान वाले हरिसिंह राणा से उधार लिए हैं। इसके बाद कैमिकल लगे नोट छूने वाले बाबू के हाथ जैसे ही पानी में डलवाए गए पानी गुलाबी हो गया। लोकायुक्त ने रुपए, बाबू का मोबाइल निगरानी में लेकर तत्काल भ्रष्टाचार का मामला दर्ज कर लिया है।
परेशान हो गया था
फरियादी हरिसिंह राणा ने बताया कि उनके पिता की 6 बीघा जमीन जिसकी कीमत लगभग 20 लाख रुपए होगी। तीन साल से बच्चों के नाम जमीन के नामांतरण के लिए वह तहसील में चक्कर लगा रहे थे। बाबू फाइल में कोई न कोई कमी निकालकर कभी चुनाव तो कभी समय न होने की बात कहकर टाल रहा था। परेशान हो गए थे। तभी पता लगा कि ऐसे भ्रष्ट लोगों को लोकायुक्त अच्छा सबक सिखाती है। इसके बाद मन में ठान लिया था कि इस बाबू को सबक सिखाकर ही रहेंगे। लोकायुक्त दफ्तर पहुंचे और काम आसान हो गया।
बड़े भाई ने लगाई थी आपत्ति
6 बीघा जमीन के नामांतरण के लिए हरिसिंह ने वर्ष 2018 में आवेदन किया था। उस समय बाबू ने चुनाव का बहाना बनाकर मामले को टाल दिया। फिर 2019 में हरिसिंह के बड़े भाई ने गोहद न्यायालय में इस नामांतरण पर आपत्ति लगा दी। इसके बाद अभी 31 जनवरी 2021 को कोर्ट ने फैसला हरिसिंह के पक्ष में दिया और तभी से बाबू के पास गया तो वो काम नहीं कर रहा था।
भागवत कथा सुनने आई व़द्धा की चेन लेकर महिला गायब
ग्वालियर।शहर के थाटीपुर के त्रिमूर्ति नगर में चल रही भागवत कथा की भीड़ में एक वृद्धा से महिला उसकी सोने की चेन खींच ले गए। वृद्ध ने मुड़कर देखा तो एक महिला भागते हुए दिखी। वृद्धा ने शोर भी मचाया, लेकिन साउंड के शोर में महिला की आवाज दब गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस कथा स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी देख रही है।
जानकारी के अनुसार थाटीपुर थाना क्षेत्र के त्रिमूर्ति नगर निवासी मलखान सिंह गुर्जर पुत्र जगत सिंह गुर्जर डेयरी संचालक है। बीते रोज उनकी मां ६१ वर्षीय कपूरी देवी घर के पास ही मंदिर पर चल रही भागवत कथा सुनने के लिए गई थीं। मंगलवार शाम जब कथा का समापन होता है तो वहां प्रसाद के लिए काफी भीड़ हो गई इसी भीड़ में किसी ने कपूरी देवी के गले पर झपट्टा मारकर सोने की चेन खींच ली। गले पर किसी का हाथ लगते ही वृद्धा ने पीछे पलटकर देखा तो एक महिला भागते हुए दिखी। कपूरी देवी ने शोर मचाया, लेकिन शोर मे कपूरी देवी की आवाज किसी ने नहीं सुनी। थाटीपुर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर महिला की तलाश शुरू कर दी है।
युवती से परेशान होकर की थी आत्महत्या,मामला दर्ज
ग्वालियर।जिले के आंतरी थाने के ग्राम संदलपुर में आत्महत्या करने वाले कपड़ा व्यापारी को उसी के यहां काम करने वाली युवती द्वारा ब्लैकमेन कर परेशान किया जा रहा था। जिसके चलते कारोबारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या की थी। जांच के बाद पुलिस ने युवती के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।जानकारी के अनुसार ४ दिसंबर को संदलपुर में रहने वाले बंटी यादव (३२) पुत्र देवनारायण यादव ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। बंटी ग्वालियर में कपड़े का काम करता था। जिसके चलते पुलिस द्वारा मामले में मर्ग कायम कर जांच की जा रही थी। जांच में सामने आया कि युवक के यहां करैरा की एक युवती काम करती थी। युवती उसे ब्लैकमेल कर रही थी और शादी के लिए दवाब बनाया जा रहा था। युवती द्वारा परेशान किए जाने के चलते उसने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने जांच के उपरांत युवती के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

LEAVE A REPLY