विधानसभा का बजट सत्र 22 फरवरी से,दो लाख करोड़ से अधिक का बजट हो सकता है पेश

0
1

-26 मार्च तक चलने वाले सत्र में कुल 24 बैठकें होंगी
भोपाल। विधानसभा का बजट सत्र इस बार 22 फरवरी से 26 मार्च के बीच होगा। कोरोना महामारी के बीच अगले साल के बजट के लिए इस बार पहली बार इतनी लंबी अवधि का बजट सत्र होगा। राज्यपाल की अनुमति के बाद बजट सत्र की अधिसूचना जारी कर दी गई है। इस सत्र में कुल 24 बैठकें होंगी। सत्र में लगभग दो लाख करोड़ के बजट को मंजूरी दिए जाने के अलावा विधानसभा के नए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव भी कराया जाएगा।
सूत्रों के मुताबिक संसदीय कार्य विभाग के प्रस्ताव पर विधानसभा सचिवालय ने राज्यपाल के पास बजट सत्र की अनुमति के लिए प्रस्ताव भेजा था। जिसे शुक्रवार शाम को ही मंजूरी मिल गई। पिछले साल एक लाख 84 हजार करोड़ का मुख्य बजट और चौदह हजार करोड़ का अनुपूरक बजट मंजूर किया गया था। इस बार मध्यप्रदेश के लिए अतिरिक्त कर्ज लेने की सीमा केन्द्र सरकार ने दो प्रतिशत घटा दी है। जिसके चलते अठारह हजार करोड़ रुपए की कमी आ जाएगी। इसलिए इस बार का बजट भी सत्र में होंगी 24 बैठकें पिछले बार के बजट के आसपास ही रह सकता है।
विधानसभा को मिलेंगे नए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष
22 फरवरी को सत्र के पहले दिन दिवंगतों को निधन के उल्लेख और श्रद्धांजलि के साथ सदन की कार्यवाही स्थगित की जा सकती है। सत्र के पहले ही सप्ताह में नए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष के चयन की कवायद भी की जा सकती है। बजट सत्र में विभागवार चर्चा के बाद इसे पारित कराया जाएगा। एक दर्जन विधेयक और अध्यादेशों को विधेयक का रूप देने के लिए प्रस्ताव भी इस सत्र में आएगा। इसके अलावा प्रश्नकाल, शून्यकाल, ध्यानाकर्षण, स्थगन प्रस्ताव और शासकीय कार्य भी इस सत्र के दौरान निपटाए जाएंगे।

LEAVE A REPLY