देखरेख के अभाव में कंडम हो रहे करोड़ों के वाहन

0
1

ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
करीब एक साल पहले शहर भर का कचरा ढोने के लिए खरीदी गई लोडिंग गाड़ियां देखरेख के अभाव में कंडम होती जा रही हैं। इन गाड़ियों को नगर निगम के सहयोग से अनुबंध करने वाली कंपनी इकोग्रीन ने खरीदा था, लेकिन कंपनी ने बीच में ही काम छोड़ दिया। जिससे अब नगर निगम ने ही इन गाड़ियों को अधिग्रहित कर लिया है। देखरेख के अभाव में करोड़ों की गाड़ियां धूल खा रही हैं।
दरअसल पांच साल पहले चाइना की कंपनी इकोग्रीन ग्वालियर नगर निगम से अनुबंध करके शहर भर का कचरा उठाने के लिए बड़े पैमाने पर गाड़ियां खरीदी थी।इन गाड़ियों में सूखा और गीला कचरा अलग-अलग करने के लिए अलग-अलग बॉक्स भी लगाए गए थे। लेकिन 6 महीने पहले कंपनी ने अचानक काम बंद कर दिया। इसे लेकर नगर निगम की सफाई व्यवस्था अवरुद्ध हो गई। इको ग्रीन कंपनी ने अपने कई कर्मचारियों को समय पर वेतन भी नहीं दिया था। जिससे वह भी कंपनी के खिलाफ हो गए और कचरा कलेक्शन का काम रुक गया।बीच समय में अनुबंध खत्म होने के बाद नगर निगम ने इकोग्रीन की गाड़ियों को अपने कब्जे में ले लिया।
100 से ज्यादा गाड़ियां खड़ी हैं
इन गाड़ियों में शहर के सात ट्रेंचिंग ग्राउंड में लगभग 100 से ज्यादा गाड़ियां खड़ी हैं। पांच साल पहले खरीदी गई इन गाड़ियों को मेंटेन करके अभी और काम लिया जा सकता है। लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं है। हाल ही में कमिश्नर बन कर आए शिवम वर्मा का कहना है कि गाड़ियों के मेंटेनेंस पर अब ध्यान दिया जाएगा।उन्हें समय पर सही करा लिया जाएगा।जिससे वे कचरा कलेक्शन के काम आ सके।
सीवर चेम्बर व पेयजल के चेम्बर सडक के लेवल के बराबर करें:निगमायुक्त
ग्वालियर।शहर की सडकों पर जहां भी सीवर चेम्बर अथवा पेयजल के चेम्बर के ढक्कन सडक के लेवल से उपर या नीचे हैंए उनकी प्रतिदिन सभी संबंधित अधिकारी मानीटरिंग करें तथा जहां भी जिस भी विभाग से उसे ठीक होना हैए तत्काल ठीक कराएं। किसी भी प्रकार की घटना दुर्घटना होने पर संबंधित अधिकारी की लापरवाही मानी जाएगी। उक्ताशय के निर्देश नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा ने आज हजीरा एवं किलागेट क्षेत्र में निरीक्षण के दौरान अधिकारियों को दिए।
निगमायुक्त ने शुक्रवार को प्रातः हजीरा स्थित मनोरंजनालय मैदान में अमृत योजना के तहत विकसित किए जा रहे पार्क का अवलोकन किया तथा मैदान में ही बने सार्वजनिक शौचालय को भी देखा एवं आवश्यक साफ सफाई व अन्य व्यवस्थाओं के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इसके साथ ही हजीरा से किलागेट तक एवं किलागेट से फूलबाग तक की सडक एवं सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया तथा अमृत योजना के तहत किए गए सीवर व पेयजल की लाइन बिछाने के कार्य के बाद रोड रेस्टोरेशन के काम को देखा। जिसमें कार्य ठीक न होने पर अधीक्षण यंत्री आर एलएस मौर्य को निर्देशित किया। जिसमें रोड का कार्य ठीक कराने एवं सीवरए नाली आदि सहित अन्य जो भी कार्य होने हैं उन्हें तत्काल पूर्ण कराने के निर्देश दिए।

LEAVE A REPLY