सुमावली से कांग्रेस विधायक अजब सिंह पर FIR

0
19

सरकारी जमीन को अपनी बताकर बेचा था, एंटी माफिया ने कब्जा हटाया तो उजागर हुई धोखाधड़ी
मुरैना/ग्वालियर।अजयभारत न्यूज 

मुरैना जिले के सुमावली से कांग्रेस विधायक अजब सिंह कुशवाहा के खिलाफ ग्वालियर के महाराजपुरा थाने में धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है। आरोप है कि 3 साल पहले विधायक ने सरकारी जमीन को अपना बताकर बेच दिया था। हाल में एंटी माफिया मुहिम के तहत सरकारी जमीन से प्रशासन ने कब्जा हटवाया, तो मामले का खुलासा हुआ। यही नहीं, लोगों के पास जमीन की रजिस्ट्री तक थी। इसके बाद प्रशासन ने खुद मामला दर्ज करवाया।
पुलिस के मुताबिक 15 दिन पहले विक्रमपुर खेरिया गांव में एंटी माफिया मुहिम के तहत 1 बीघा सरकारी जमीन अतिक्रमण मुक्त करवाई थी। जमीन पर माया देवी पत्नी राजेन्द्र सिंह, मुन्नी देवी पत्नी दुर्गसिंह भदौरिया, कृष्णकांत पुत्र मुंशीलाल त्यागी का कब्जा था। कार्रवाई के समय इन लोगों ने प्रशासन को जमीन के दस्तावेज भी दिखाए। रजिस्ट्री विधायक अजब सिंह ने की थी। लोगों ने अफसरों को बताया, 3 साल पहले यह जमीन अजब सिंह कुशवाहा से उन्होंने खरीदी है। इसका पता चलते ही मामले की जांच की गई। जांच के बाद मुरार तहसील में पदस्थ पटवारी हरिमोहन पुत्र आरएस राजपूत महाराजपुरा थाने पहुंचे और मामले की शिकायत की। इस पर पुलिस ने अजब सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया। ग्वालियर एसपी अमित सांघी का कहना है, प्रशासन की ओर से शिकायत की गई थी, जिस पर जांच के बाद मामला दर्ज कर लिया गया है।
सभी के पास है रजिस्ट्री
पीडि़त मायादेवी ने बताया कि उन सभी के पास रजिस्ट्रार कार्यालय में कराई गई रजिस्ट्री मौजूद है। उन्होंने जमीन खरीदने के लिए पैसों का भुगतान किया है। उनके पास कीमत चुकाने के भी सबूत हैं।
भाजपा नेता भुजबल यादव पर एफआईआर
ग्वालियर जिला पंचायत अध्यक्ष मनीषा यादव के पति और भाजपा नेता भुजबल सिंह यादव के खिलाफ मुरार थाना पुलिस ने धोखाधड़ी और धमकाने का मामला दर्ज किया है। यूपी के इटावा पंचायती राज ऑफिस में सलाहकार अधिकारी की एक बीघा जमीन पर जबरिया कब्जा करने और उन्हें धमकाने की शिकायत पर ये मामला दर्ज किया गया है।
ग्वालियर के साकेत नगर निवासी मनोज यादव ने पुलिस को बताया वह जिला पंचायती राज कार्यालय इटावा, यूपी में सलाहकार हैं। उनकी पत्नी बरेली यूपी में मत्सय विभाग में उपनिदेशक हैं। उनकी एक बीघा जमीन बड़ागांव हाइवे पुल के पास है। दंपती यूपी में ही रहते हैं, इसलिए जमीन की देखरेख करने वाला कोई नहीं है। इसका फायदा जिला पंचायत अध्यक्ष मनीषा यादव के पति भुजबल सिंह यादव ने उठाकर साथी संतोष की मदद से उनकी जमीन पर कब्जा किया है। उनकी जमीन के दोनों तरफ कच्ची सड़क बनवाई और तहसील स्तर पर जमीन के गलत नक्शे बनवाकर उसे बेचने की कोशिश कर रहे हैं। मनोज ने पुलिस को बताया कि जमीन पर कब्जा करने से रोका तो भुजबल ने उन्हें धमकाया, कहा कि तुम्हारी जमीन का सौदा कर दिया है, तुम्हारे हिस्से की रकम पहुंच जाएगी। जबकि उन्होंने जमीन का कोई सौदा नहीं किया है।

LEAVE A REPLY