कृषि बिल के खिलाफ फूलबाग चौराहे पर किसानों ने किया चक्का जाम

0
0

ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
किसान विरोधी तीनों कानून वापिस लेने एवं संशोधित करने और बिजली कानून-2020 को वापिस लेने की मांग को लेकर सीपीएम के आव्हान पर कार्यकर्त्ताओं ने लगभग एक घंटे तक फूलबाग चौराहा पर चक्काजाम किया। इसके बाद स्वयं कार्यकर्त्ताओं ने चक्काजाम हटाते कहा कि हमारा मकसद सरकार ध्यान अपनी खींचना था न कि नागरिकों को परेशान का इसलिये हम चक्काजाम स्वयं हटा रहे हैं।
सीपीएम कार्यकर्त्ता बोल रहे थे खेती और किसान कोतबाह करने वाले तीनों काले कानून एवं संशोधित बिजली कानून 2020 के खिलाफ देशभर किसान आन्दोलनरत है। देश के मजदूर एवं अन्य तबके भी किसानों के समर्थन में आन्दोलन कर रहे हैं। आज देश के हर कोने से यह आवाज आ रही है कि किसान और खेती विरोधी काले कानूनों समेत बिजली कानून को वापिस लिया जाये। लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि सरकार इसके लिये अभी तैयार नहीं है। आज हम इस आन्दोलन के माध्यम से ग्वालियर के तमाम किसान संगठन, सामाजिक संगठन, एवं राजनैतिक दल आपके मांग करते है यथाशीघ्र तीनों कृषि कानूनों एवं बिजली कानून को वापिस लिये जाने की मांग करते हैं।
चक्काजाम खत्म करने के पश्चात् सारे कार्यकर्त्ता मोतीमहल स्थित संभागायुक्त कार्यालय पर पहुंच कर प्रदर्शन किया इसमें सीपीएम नेता अखिलेश यादव, प्रीती सिंह, रामविलास गोस्वामी आदि चक्काजाम का नेतृत्व कर रहे थे।

LEAVE A REPLY