CRIME LINE :दूसरे के प्लाट को अपना बताकर दो ठगों ने की लाखों की ठगी;पौने छह लाख लेकर नहीं दिया सीमेंट ठगी का मामला दर्ज

0
0

ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
ग्वालियर। ग्वालियर के महाराजपुरा थाना क्षेत्र अंतर्गत डीडी नगर से एक बार फिर से ठगी का मामला सामने आया है, जहां किसी और के प्लॉट को अपना बताकर दो ठगों ने लाखों रुपए की धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम दिया। ठगी का शिकार हुए व्यक्ति ने थाने पहुंचकर पूरे मामले की शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।
डीडी नगर के रहने वाले कमल किशोर शास्त्री और विमल कुमार जैन ने भिंड निवासी राजेंद्र बघेल के नाम पर रजिस्ट्री की थी। इस दौरान कुल 7 लाख 81 हजार रुपए की ठगी की गई। इसका पता राजेंद्र बघेल को तब चला, जब वो प्लॉट का नामांतरण कराने नगर निगम कार्यालय पहुंचे थे। राजेंद्र बघेल ने कमल किशोर शास्त्री और विमल जैन से कहा कि, ‘तुम लोगों ने मेरे साथ धोखाधड़ी की है। मुझे मेरा पैसा वापस चाहिए’, लेकिन दोनों ने पैसे नहीं लौटाए, जिसकी शिकायत राजेंद्र बघेल ने थाने पहुंचकर पुलिस की दी।
ये हैं पूरा मामला
रियादी राजेंद्र बघेल ने पुलिस को बताया कि, उनके भांजे द्वारा पता चला था कि, कमल किशोर शास्त्री का एक प्लाट डांग गांव में है। यह प्लाट 24 हजार स्क्वायर फीट का है। उन्होंने कमल किशोर से प्लाट के संबंध में बातचीत की, तो उसने बताया कि, ये मेरा प्लाट है। मैं इसे बेचना चाहता हूं।दोनों के बीच बातचीत हुई, जिसके बाद प्लाट का सौदा 7 लाख 81 हजार रुपए में तय हो गया। वहीं साल 2014 में रजिस्ट्री होते समय ये राशि राजेंद्र बघेल ने कमल किशोर शास्त्री को सौंप दी थी, क्योंकि सौदा करते समय आरोपी ने प्लाट उसका होना बताया था। बाद में रजिस्ट्री विमल कुमार जैन द्वारा की गई थी। उस समय राजेंद्र बघेल ने विमल जैन द्वारा रजिस्ट्री करने पर आपत्ति भी जताई थी।
पौने छह लाख लेकर नहीं दिया सीमेंट ठगी का मामला दर्ज
ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
शहर के विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र में स्थित सिटी सेंटर क्षेत्र में एक सीमेंट कारोबारी ने ठेकेदार से पौने छह लाख की रकम ले ली और उसे सीमेंट नहीं दिया। इसके बाद ठेकेदार ने अपनी रकम मांगी तो उसकी मारपीट कर भगा दिया पुलिस ने ठेकेदार की शिकायत पर जांच के बाद सीमेंट कारोबारी के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।
जानकारी के अनुसार न्यू फोर्ट कॉलोनी निवासी रवि सिकरवार की विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र किसकी सेंटर इलाके में बिरला कारपोरेशन के नाम से फर्म है वह सीमेंट के होलसेल का कारोबार करते हैं। करीब ढाई साल पहले 2018 में एक ठेकेदार लक्ष्मण राव शिंदे का किसी साइट पर काम चल रहा था उन्हें सीमेंट की जरूरत थी इसलिए लक्ष्मण राव ने रवि सिकरवार से सीमेंट की सप्लाई की बात की। इसके बाद लक्ष्मण ने सीमेंट के लिए पौने छह लाख की रकम एडवांस में दे दी ।रवि ने उन्हें सीमेंट सप्लाई करने का आश्वासन दिया लेकिन भुगतान करने के बाद भी जब सीमेंट की सप्लाई नहीं हुई तो लक्ष्मण राव ने रवि सिकरवार से अपनी रकम वापस मांगी तो रवि सिकरवार ने उनकी मारपीट कर ऑफिस से भगा दिया। इसके बाद ठेकेदार ने विश्व विद्यालय थाने में लिखित शिकायत की पुलिस ने जांच के बाद आरोपी के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY