कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने खोया आपा, कांग्रेस कार्यकर्ता की पकड़ी गर्दन

0
50

-कमल नाथ के होर्डिंग हटाने पर कांग्रेसी भडके,पुलिस ने मंत्री को बचाया
ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
जैसे-जैसे उपचुनाव नजदीक आ रहे हैं। वैसे-वैसे ही सियासी पारा गरम हो रहा है। जिसका आलम ये है कि नेता अब अपना आपा खो रहे हैं। इसका जीता जागता उदाहरण ग्वालियर में देखने को मिला। जहां पूर्व सीएम कमलनाथ के दौरे पर लगे कांग्रेस के पोस्टर पर बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए।
मौके पर पहुंचे कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का जब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने घेराव किया तो उन्होंने एक कांग्रेस कार्यकर्ता की गर्दन पकड़ ली। जिससे धक्का-मुक्की की स्थिति बन गई। हालांकि पुलिस ने बीच-बचाव करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ता को दबोच लिया।
बता दें फूलबाग चौराहे पर लगे कमलनाथ के पोस्टरों को हटाने के लिए जब नगर निगम की टीम पहुंची थी, तो उसी समय कांग्रेसी कार्यकर्ता भी वहां पहुंच गए। इसके बाद विवाद शुरू हो गया। हजारों की संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ-साथ पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव, कांग्रेस नेता सतीश सिकरवार सहित नेताओं ने मंत्री प्रदुमन सिंह तोमर के सामने नारेबाजी शुरू कर दी।इसी दौरान एक कार्यकर्ता मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के पीछे-पीछे चलने लगा, जिससे मंत्री की झूमा-झपटी हो गई। मंत्री प्रद्युम्न सिंह को भीड़ में से निकालने के लिए पुलिस ने काफी मशक्कत की और इसी दौरान मंत्री के गार्ड और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में हाथापाई भी देखने को मिली।
भाजपा डर रही है:कांग्रेस ,मेरा कोई अपमान नहीं हुआ:तोमर
इस पूरे घटनाक्रम पर कांग्रेस प्रत्याशी सुनील शर्मा ने कहा कि ये भाजपा और उनके मंत्रियों की बौखलाहट है, भाजपा डर रही है, वो हमारे पोस्टर बैनर हटवा सकती है लेकिन लोगों के दिलों में बसी कांग्रेस को नहीं हटा सकते।
उधर अपने साथ कांग्रेसियों द्वारा की गई बद सलूकी पर मंत्री तोमर ने कहा कि मेरा कोई अपमान नहीं हुआ। मैं जनता का सेवक हूँ ।गुंडा गर्दी कर रहे कांग्रेसियों ने जनता का अपमान किया है। रही बात होर्डिंग हटाने की तो कोई होर्डिंग नहीं हटाई जो अवैध तरीके से बिना अनुमति लगे थे उसे निगम प्रशासन ने हटाया है। फिलहाल शहर में कांग्रेस और भाजपा आमने सामने आने से तनाव हो गया।जिसक चलते पुलिस चौकन्नी हो गई है।
मंत्री की मर्यादा और सुचिता के खिलाफ है व्यवहार
फूलबाग चौराहा पर मंत्री प्रधुम्नसिंह जिस प्रकार का अशोभनीय व्यवहार सार्वजनिक रूप से किया, वह न सिर्फ एक नेता बल्कि एक मंत्री के मर्यादा और सुचिता के खिलाफ है। हम इसकी निंदा एवं भर्त्सना करते है।
आरपी सिंह, प्रवक्ता, कांग्रेस, मप्र
——————————और इधर ,बाद में ————————————————–
कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ हुई झूमाझटकी के बाद मंत्री ने जारी किया वीडियो, कही ये बात
ग्वालियर। आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं और कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के बीच हुई झूमा-झपटी को लेकर मंत्री ने gwl-pradhuman vedioवीडियो जारी किया है। जिसमें उन्होंने कहा कि फूलबाग स्थित मांझी समाज के लोग धरने पर बैठे थे। वहां वे उनकी समस्याओं को सुनने गए थे। इसी दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका घेराव किया और प्रदर्शन स्थल पहुंचने में व्यवधान डाला। कैबिनेट मंत्री ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर गुंडागर्दी करने का आरोप लगाया है।
मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा वे विचलित नहीं होंगे। सब कुछ न्योछावर कर देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बौखला रही है। ग्वालियर के विकास कार्यों के लिए तत्कालीन कमलनाथ सरकार के पास फंड नहीं था। अब करोड़ों के विज्ञापन के लिए पैसे कहां से आ रहे हैं। इसको लेकर जब सवाल पूछ लिया तो गुंडागर्दी करने लगे।

LEAVE A REPLY