‎आगामी सत्र में नहीं होगा अध्यक्ष-उपाध्यक्ष का चुनाव ; 21 सितंबर से शुरु होने वाला विधानसभा सत्र

0
2

भोपाल। आगामी विधानसभा सत्र के दौरान अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव नहीं ‎किया जाएगा। यह फैसला कल हुई सर्वदलीय बैठक में ‎लिया गया। मध्य प्रदेश विधानसभा में 21 सितंबर को होने वाले सत्र की व्यवस्थाओं को लेकर कल विधानसभा के सामयिक अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक हुई। कोरोना संक्रमण को लेकर सत्र में विशेष सावधानियां बरती जाएंगी। सत्र में इस बार विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव नहीं होगा।

सत्र केवल दो दिन का रहेगा, पहले दिन दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजलि दी जाएगी और सत्र अगले दिन तक के लिए स्थगित हो जाएगा। इसके बाद दूसरे दिन बजट पर चर्चा होगी और जिन विधायकों को बुलाया जाएगा वे ही सदन में उपस्थित रहेंगे, बाकी विधायक अपने घर से ऑनलाइन माध्यम से सत्र में देख सकेंगे। सर्व दलीय बैठक के बाद विधानसभा से बाहर आए पूर्व सीएम कमल नाथ ने ब्यावरा से कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी के निधन पर शोक जताया। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में इलाज में हुई लापरवाही से उनकी जान गई है।

विधायक दांगी पहले भोपाल में भर्ती थे, यहां उन्हें सही इलाज नहीं मिला। जिसके बाद उन्हें दिल्ली भेजा गया था। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, संसदीय कार्यमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा, मंत्री भूपेंद्र सिंह, नेता प्रतिपक्ष कमल नाथ, पूर्व मंत्री पी सी शर्मा, सुश्री विजयलक्ष्मी साधो एवं विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह मौजूद थे।

LEAVE A REPLY