राजस्थान: विधानसभा सत्र तक टूट से बचाने के लिए गहलोत गुट के विधायक जैसलमेर रवाना, 14 अगस्त तक वहीं रहेंगे

0
4

नई दिल्ली: राजस्थान में राजनीतिक गहमागहमी के बीच राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा सत्र की मंजूरी दे दी है. जिसके बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने सभी समर्थक विधायकों को जैसलमेर ले जा रहे हैं. इस बीच उन्होंने बिना नाम लिए बीजेपी पर विधायकों की खरीद-फरोख्त की बात कही है.
उनका कहना है कि राजस्थान में विधायकों की खरीद-फरोख्त का ‘रेट’ बढ़ गया है. इससे पहले पहली किश्त 10 करोड़ और दूसरी किश्त 15 करोड़ रुपये थी. अब यह असीमित हो गई है. सब लोग जानते हैं कौन लोग खरीद-फरोख्त कर रहे हैं.फिलहाल राजस्थान में राज्यपाल कलराज मिश्र ने 14 अगस्त से विधानसभा सत्र बुलाने की इजाजत दी है. जिसके बाद विधायकों की खरीद-फरोख्त होने की आशंका के बीच मुख्यमंत्री ने अपने सभी समर्थित विधायकों को जैसलमेर भेजना शुरु कर दिया है. इसके लिए अशोक गहलोत ने तीन चार्टर्ड प्लेन की व्यवस्था भी की है. बताया जा रहा है कि एक विमान रवाना हो गया है, वहीं बाकी के विधायक भी कुछ ही देर में रवाना हो जाएंगे.
बता दें कि राजस्थान में सचिन पायलट की नाराजगी को देखते हुए, सरकार पलटने के आसार के बीच सचिन पायलट से उप-मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का पद छीन लिया गया था. इसके साथ ही पायलट और उनके संबधित नेताओं का पार्टी से निष्कासन कर दिया गया था.
राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट और 18 अन्य विधायक पार्टी के संपर्क से बाहर हो गए. सभी विधायक दिल्ली-एनसीआर के होटलों में ठहरे हैं. इस बीच अब 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाया गया है. इसी के साथ लंबे समय से राज्यपाल और गहलोत सरकार के बीच चल रहा टकराव खत्म हो गया.

LEAVE A REPLY