कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर देखने पहुँचे सीएम शिवराज,वीडियो कॉलिंग से जाना कोरोना संक्रमित का हालचाल

0
11

ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ग्वालियर प्रवास के दौरान मोतीमहल स्थित एकीकृत कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर देखने भी पहुँचे। अत्याधुनिक सूचना प्रौद्योगिकी उपकरणों से सुसज्जित स्मार्ट सिटी योजना की इस महत्वपूर्ण इकाई का उपयोग वर्तमान में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम और आपदा प्रबंधन कंट्रोल सेंटर के रूप में हो रहा है। इसका निर्माण लगभग 30 करोड़ रूपए की लागत से हुआ है। मुख्यमंत्री ने कंट्रोल एण्ड कमाण्ड सेंटर की क्रियाविधि समझी। साथ ही यहाँ से वीडियो कॉलिंग के जरिए कोरोना संक्रमित मरीज श्रीमती मनोरमा बाथम से चर्चा कर उनका हालचाल जाना । कन्ट्रोल कमांड सेंटर एवं स्मार्ट सिटी की सीईओ जयति प्रसाद ने सीएम शिवराज सिंह की अगवानी और कमांड सेंटर के संबंध में जानकारी दी।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री ने मनोरमा से कहा कि आप अपनत्व पाकर मनोरमा की खुशी देखते ही बन रही थी। फिर क्या उन्होंने बेझिझक अपने स्थानांतरण की माँग मुख्यमंत्री के सामने रख दी। बाबा कपूर के पास किलागेट निवासी राकेश बाथम की धर्मपत्नी मध्यप्रदेश विद्युत वितरण कंपनी में पदस्थ हैं। श्रीमती मनोरमा बाथम की कोरोना जाँच रिपोर्ट 4 जुलाई को पॉजिटिव आई थी। बच्चे छोटे होने के कारण उन्हें होम आइसोलेशन की सुविधा मुहैया कराई गई है।
कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जानकारी दी कि कंट्रोल कमाण्ड सेंटर के माध्यम से जिले के बॉर्डर की निगरानी भी की जाती है। लॉकडाउन हटने के बाद नाकों पर हो रही स्क्रीनिंग एवं बाहर से आए लोगों पर निगरानी इस सेंटर के जरिए रखी जा रही है। साथ ही यह भी पता लगाया जाता है कि किन मरीजों ने निजी अस्पतालों में इलाज कराया एवं मेडीकल स्टोर से दवाएं ली। इस नियंत्रण कक्ष से सहायता प्राप्त करने के लिए 24ग्7 हेल्पलाइन नम्बर भी जारी किये गये हैं। इन नम्बरों पर हर दिन नागरिक कोरोना से सम्बंधित ज़रूरी जानकारीए सूचना और सहायता के लिये संपर्क करते हैं। कंट्रोल रूम में प्राप्त शिकायतों का वर्गीकरण किया जाता है। उन शिकायतों का निराकरण सबसे पहले किया जाता है जो लोगों के जीवन से संबंधित है। कंट्रोल रूम में अब तक 30 हजार शिकायतें व माँग दर्ज हो चुकी हैं। अधिकारी द्वय ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि स्मार्ट सिटी के कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर में विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस को लेकर किये जा रहे अपडेट और गाईडलाईन के अनुसार लाईव माँनिटिरिंग कर ग्वालियर जिले में कोरोना के प्रभाव को रोकने का सफल प्रयोग किया गया है।
ज्ञात हो मोतीमहल के हेरिटेज भवन को उसके वास्तविक स्वरूप में सहेजकर स्मार्ट सिटी के कन्ट्रोल एंड कमांड सेंटर का निर्माण किया गया है। इसके निर्माण के पीछे मुख्य उद्देश्य शहर में उपलब्ध विभिन्न सुविधाओं को समाहित कर एक ही स्थान पर प्लेटफार्म मुहैया करना है। एकीकृत कण्ट्रोल एण्ड कमांड सेंटर से परिवहन, जल, अग्नि पुलिस, मौसम विज्ञान, ई.गर्वनेंस जैसे विभिन्न विभागों से प्राप्त जानकारी का एक मंच पर समाधान और विश्लेषण किया जा सकता है।
मुख्यमंत्री के साथ इनकी भी रही मौजूदगी
कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर का अवलोकन करने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ प्रदेश के लोक स्वास्थ्य, परिवार कल्याण एवं गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्र, मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर व श्रीमती इमरती देवी, राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह एवं सांसद विवेक शेजवलकर भी पहुँचे थे। साथ ही पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा, पूर्व मंत्री श्रीमती माया सिंह, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल व मदन कुशवाह, अन्य जनप्रतिनिधिगणए मुख्यमंत्री के ओएसडी बीएम शर्मा, संभाग आयुक्त एमबी ओझा, आयुक्त जनसंपर्क डॉ सुदामा खाड़े, पुलिस महानिरीक्षक राजाबाबू सिंह, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह व पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन सहित अन्य संबंधित अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY