इरफान पठान ने कहा, धोनी में कप्तानी के दौरान आये कई बदलाव

0
8
India wicketkeeper Mahendra Singh Dhoni dives to take a successful catch to dismiss West Indies cricketer Chandrapaul Hemraj during the third one day international (ODI) cricket match between India and West Indies at the Maharashtra Cricket Association Stadium in Pune on October 27, 2018. (Photo by PUNIT PARANJPE / AFP) / ----IMAGE RESTRICTED TO EDITORIAL USE - STRICTLY NO COMMERCIAL USE----- / GETTYOUT

नई दिल्ली। पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने कहा है कि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी में कप्तानी के दौरान ब़ड़ा बदलाव आया था। पठान ने कहा कि अपनी कप्तानी के शुरुआती दौर में धोनी गेंदबाजों पर नियंत्रण करना पसंद करते थे पर बाद में उन्होंने गेंदबाजों पर भरोसा करना शुरु कर दिया। साथ ही कहा कि इसी दौरान धोनी काफी शांत नेतृत्वकर्ता भी बन गये थे।
पठान 2007 विश्व कप विजेता टीम और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी जीतने वाली भारतीय टीम में शामिल थे। इस ऑलराउंडर ने कहा कि जैसे जैसे समय बढ़ता गया धोनी में कप्तान के तौर पर कई तरीकों से बदलाव आया। उन्होंने कहा, ‘2007 में धोनी पहली बार कप्तानी बने थे ऐसे में जब आपको टीम की अगुआई की बड़ी जिम्मेदारी दी जाती है तो आप थोड़े उत्साहित हो जाते हो, आप इसे समझ सकते हो।’ उन्होंने कहा, ‘हालांकि टीम बैठक हमेशा कम समय की होती थी, 2007 में भी और 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान भी केवल पांच मिनट की बैठक होती थी।’
इस साल के शुरू में क्रिकेट के सभी प्रारूपों को अलविदा कहने वाले इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘2007 में धोनी उत्साहित होकर विकेटकीपिंग से गेंदबाजी छोर तक भाग जाया करते थे और साथ ही गेंदबाजों पर भी नियंत्रण करने की कोशिश करते थे लेकिन साल 2013 में वह गेंदबाजों को स्वयं पर नियंत्रण करने देते थे। वह बहुत शांत हो गये थे।’ 2013 तक धोनी ने मैच जीतने के लिये कठिन हालातों में भी स्पिनरों को लगाना शुरू कर दिया था।

LEAVE A REPLY